Home » इंडिया » court dismiss omar abdullah divorce petition
 

उमर अब्दुल्ला की तलाक की अर्जी खारिज

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 August 2016, 13:23 IST
(एजेंसी)

दिल्ली की एक स्थानीय अदालत ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला की उनसे अलग रह रही पत्नी पायल अब्दुल्ला से तलाक की अर्जी खारिज कर दी और कहा कि अब्दुल्ला यह साबित करने में नाकाम रहे कि उनके वैवाहिक संबंध सुधर नहीं सकने वाली स्थिति में पहुंच गए हैं.

प्रधान न्यायाधीश अरुण कुमार आर्य ने उमर की याचिका खारिज करते हुए कहा कि वह 'क्रूरता' या 'परित्याग' के अपने दावों को साबित नहीं कर सके, जिसके आधार पर उन्होंने तलाक की अर्जी दायर की थी.

कोर्ट ने अपने 72 पेज के आदेश में कहा, "याचिकाकर्ता (उमर अब्दुल्ला) ऐसी एक भी परिस्थिति दिखाने में नाकाम रहे, जिसमें प्रतिवादी (पायल अब्दुल्ला) के साथ संबंध बनाए रखना उनके लिए असंभव हुआ हो." 

'अपना पक्ष साबित करने में नाकाम'

कोर्ट ने कहा, "सबूतों से पता चलता है कि वे तलाक की अर्जी दायर करने तक निरंतर संपर्क में थे. उन परिस्थितियों को लेकर कोई सबूत नहीं है जिनके कारण याचिकाकर्ता ने तलाक की याचिका दायर की."

जज ने उमर की यह दलील ठुकरा दी कि उन्हें पायल का अतार्किक आचरण झेलना पड़ा, जिससे उन्हें पीड़ा और परेशानी हुई. कोर्ट ने कहा कि वह क्रूरता या वैवाहिक संबंध सुधर नहीं सकने वाली स्थिति साबित करने में पूरी तरह से नाकाम रहे. उन्होंने कहा कि उमर क्रूरता के आधार पर तलाक के अपने मामले को साबित नहीं कर पाए.

9 साल से अलग हैं अब्दुल्ला दंपति

अपनी पत्नी से तलाक मांगते हुए नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने दावा किया था कि उनका वैवाहिक संबंध सुधर नहीं सकने वाली स्थिति में पहुंच गया है और साल 2007 से उनके तथा उनकी पत्नी के बीच कोई संबंध नहीं हैं.

गौरतलब है कि 1 सितंबर 1994 को विवाह करने वाले अब्दुल्ला दंपति 2009 से अलग रह रहे हैं. दंपति के दो बेटे हैं जो अपनी मां के साथ रहते हैं.

First published: 31 August 2016, 13:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी