Home » इंडिया » COVID-19 vaccination from today, these people should not be vaccinated, see full list
 

देश में आज से होगा COVID-19 टीकाकरण, इन लोगों नहीं लगाई जानी चाहिए वैक्सीन, देखिये पूरी लिस्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 January 2021, 9:21 IST

पीएम नरेंद्र मोदी आज सुबह 10ः30 बजे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान का शुभारंभ करेंगे. लॉन्च के दौरान सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 3,006 साइट वर्चुअल रूप से जुड़ी रहेंगी. देश में हेल्थकेयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को अभियान के पहले चरण के दौरान टीका लगाया जाएगा. राज्यों को प्रक्रिया शुरू करने के लिए COVID-19 टीके और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं. भारत ने दो कोरोना वायरस वैक्सीन को आपातकालीन स्वीकृति प्रदान की है, जो सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशिल्ड और ने भारत बायोटेक द्वारा बनाई गई कोवाक्सिन (Covaxin) है.

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि लोगों को 28 दिनों के अंतराल में वैक्सीन की दो खुराक दी जाएगी. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय एक ऑनलाइन डिजिटल प्लेटफॉर्म Co-WIN का उपयोग टीकाकरण प्रक्रिया की निगरानी के लिए करेगा. COVID-19 वैक्सीन ड्राइव से संबंधित प्रश्नों के समाधान के लिए केंद्र ने एक 24x7 हेल्पलाइन नंबर - 1075 की स्थापना की है. COVID-19 टीकाकरण 18 साल या उसके ऊपर के लोगों का किया जायेगा. केंद्र सरकार ने उन लोगों की सूची तैयार की, जिन्हें कार्यक्रम के दौरान COVID-19 वैक्सीन की खुराक नहीं मिलनी चाहिए. जिन लोगों में एनाफिलेक्टिक या एलर्जी है उनकी वैक्सीन नहीं दी जाएगी.


गर्भवती महिलाओं (Pregnant women) या जो अपनी गर्भावस्था को लेकर सुनिश्चित नहीं हैं और स्तनपान कराने वाली माताओं को टीका नहीं लगवाना चाहिए. कोरोना वायरस संक्रमण के सक्रिय लक्षणों वाले व्यक्तियों को टीका नहीं लगाया जाना चाहिए. COVID-19 रोगियों को जिन्हें SARS-CoV-2 मोनोक्लोनल एंटीबॉडी (monoclonal antibodies) या आक्षेपिक प्लाज्मा (convalescent plasma) दिया गया है, उन्हें जैब नहीं लेना चाहिए''. जो किसी बीमारी के कारण अस्वस्थ और अस्पताल में भर्ती हैं, उन्हें COVID-19 वैक्सीन नहीं मिलनी चाहिए.

देश के 3,006 साइटों में लगभग तीन लाख स्वास्थ्य कर्मचारी शनिवार को COVID-19 टीका प्राप्त करेंगे. पहले दिन प्रत्येक सत्र स्थल पर लगभग 100 लोगों को टीका लगाया जाएगा. COVID-19 टीकाकरण अभियान के पहले चरण में सरकारी और निजी संस्थानों, दोनों के साथ-साथ स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, टीकाकरण कर्मियों, रक्षा बलों, रक्षा बलों, पुलिस और अन्य अर्धसैनिक बलों के साथ टीकाकरण किया जाएगा.

सुप्रीम कोर्ट ऑर्डर देता है तो किसान 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली नहीं करेंगे : राकेश टिकैत

First published: 16 January 2021, 8:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी