Home » इंडिया » Criminals afraid of the encounter in yogiraj apologize from public with pad in shamli
 

योगीराज में एनकाउंटर से कांपे अपराधी, घूम रहे माफी की तख्ती लेकर

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 February 2018, 15:35 IST

यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बनने के बाद अपराधी डरे हुए हैं. यूपी पुलिस द्वारा लगातार किए जा रहे बदमाशों के एनकाउंटर के बाद अब अपराधी भी घबराने लगे हैं.

खबर यूपी के कैराना जिले की है जहां एनकाउंटर से डरे अपराधी हाथों में तख्ती लेकर घूम रहे हैं. जेल से छूटकर आए गांव मोहम्मदपुर राई निवासी दो सगे भाइयों ने पुलिस अधीक्षक को शपथ पत्र देकर अपराध न करने की सौगंध खाई है. साथ ही सभ्य जीवन जीने का भी वादा किया है.

 

दरअसल मामला कैराना कोतवाली क्षेत्र के गांव मोहम्मदपुर राई का है. जहां पर अपराध की दुनिया में अपना रौब गालिब करने वाले दो सगे भाई कस्बे की गलियों में हाथों में तख्ती लेकर घूमते हुए आम लोगों से माफी मांगते नजर आ रहे हैं. अपराधियों का कहना है कि अब वो अपराध से तौबा करना चाहते हैं.

पढ़ें- NIA: सरकार के विकास कार्यों को कवर करना पत्रकार का नैतिक कर्तव्य

दोनों भाई पुलिस अधीक्षक डॉ अजयपाल शर्मा से भी मिले और शपथ पत्र देकर जीवन में कभी भी अपराध न करने का वादा किया. एसपी को दिए शपथ पत्र में सालिम उर्फ बाबा व इरशाद ने बताया कि उनके खिलाफ कैराना व अन्य थानों पर हत्या सहित कई मुकदमे दर्ज हैं. वह दोनों एक माह पूर्व ही जेल से छूटकर आए हैं.

 

दोनों ही बदमाश शादीशुदा और बाल-बच्चे दार हैं और भविष्य में सभ्य नागरिक की भांति जीवन व्यतीत करना चाहते हैं. दोनों ने प्रार्थना पत्र में अपराध से तौबा करने व अपने बच्चों के बीच रहकर शारीरिक श्रम कर जीवन यापन करने की बात कही है. साथ ही अब तक किए गए असामाजिक कृत्यों के लिए क्षमा करने की गुहार भी लगाई है.

पढ़ें- योगी सरकार ने बजट पेश कर बनाया ये ऐतिहासिक रिकॉर्ड, कई योजनाओं का किया ऐलान

गौरतलब है कि ये दोनों पेशेवर अपराधी इसलिए डरे हैं कि कहीं यूपी पुलिस उनका एनकाउंटर न दे, इसलिए वे ऐसा करके सार्वजनिक तौर पर माफी मांग रहे हैं.

कैराना के थाना प्रभारी भागवत सिंह ने कहा कि दोनों के खिलाफ लूट और हत्या के 9 मामले दर्ज हैं. दोनों एक महीने पहले ही जमानत पर बाहर आए हैं. एसपी अजय पाल ने बताया कि सलीम और इरशाद उनसे मिले थे. यह बहुत अच्छी बात है अगर वे लोग अपराध से दूर होकर अच्छा जीवन बिताना चाहते हैं.

First published: 16 February 2018, 15:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी