Home » इंडिया » NABARD has sanctioned Rs 21,000 crore limit to district central cooperative bank
 

राहत: गांवों में 1.5 लाख डाकखाने पहुंचाएंगे कैश, डेबिट कार्ड पर सर्विस चार्ज नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 November 2016, 10:56 IST

नोटबंदी के फैसले के बाद लोगों को आ रही दिक्कत को देखते हुए केंद्र सरकार ने कुछ नए राहत वाले कदम उठाए हैं. ज्यादातर गांवों में एटीएम की सुविधा न होने से हो रही परेशानी के मद्देनजर सरकार ने फैसला लिया है कि 1.5 लाख डाकखानों के जरिए गांव में लोगों को नकदी की सप्लाई की जाएगी. 

आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अहम फैसलों की जानकारी दी. शक्तिकांत दास ने कहा, "कैश की आ रही परेशानी को देखते हुए अब गांवों में 1.5 लाख पोस्ट ऑफिस के जरिए कैश पहुंचाया जाएगा."

आर्थिक सचिव शक्तिकांत दास ने कहा कि किसान क्रेडिट के लिए नाबार्ड ने जिला केंद्रीय सहकारिता बैंकों को 21 हजार करोड़ रुपये मंजूर किए हैं. एक नजर अहम फैसलों पर:

राहत वाले नए कदम

1. 1.5 लाख पोस्ट ऑफिस के जरिए गांवों में कैश की सप्लाई होगी.

2. किसानों को राहत देने के लिए नाबार्ड ने जिला सहकारी बैंकों को 21 हजार करोड़ मंजूर किए.

3. नाबार्ड और आरबीआई को निर्देश दिया गया है कि सहकारी बैंकों में पर्याप्त कैश मुहैया कराया जाए.

4. किसानों को फसल लोन कैश में मुहैया कराया जाएगा.

5. 31 दिसंबर तक डेबिट कार्ड पर कोई सर्विस चार्ज नहीं लगेगा.

6. फीचर फोन से डिजिटल ट्रांजैक्शन पर 31 दिसंबर तक कोई सर्विस चार्ज नहीं.

7. 31 दिसंबर तक IRCTC से बुक रेलवे के ई-टिकट पर सर्विस चार्ज नहीं लगेगा.

8. paytm जैसे इलेक्ट्रॉनिक वॉलेट में पैसे जमा करने की सीमा 10,000 से बढ़ाकर अब 20,000 रुपये.

82 हजार ATM रीकैलीब्रेट

आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक और कुछ निजी बैंक 31 दिसंबर तक डेबिट कार्ड के इस्तेमाल पर सर्विस चार्ज हटाने को तैयार हो गए हैं.

शक्तिकांत दास ने बताया कि सरकार नोटबंदी के बाद डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा दे रही है. इसी को देखते हुए आरबीआई ने मंगलवार को कुछ इलेक्ट्रॉनिक वॉलेट की सीमा बढ़ाने का फैसला लिया गया है. पेटीएम जैसे ई-वॉलेट में पैसे जमा करने की सीमा 10 हजार हो गई है.

इस दौरान आर्थिक सचिव ने बताया कि अब तक 82 हजार एटीएम को रीकैलीब्रेट कर दिया है और अब कुछ दिनों के अंदर सभी एटीएम दुरुस्त कर दिए जाएंगे.

First published: 23 November 2016, 10:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी