Home » इंडिया » daya shankar wife lodge fir on mayawati in lucknow
 

मायावती के खिलाफ दयाशंकर सिंह की पत्नी ने दर्ज कराई एफआईआर

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2016, 17:23 IST
(एएनआई)

यूपी बीजेपी के पूर्व नेता दयाशंकर सिंह के द्वारा की गई मायावती पर अभद्र टिप्पणी के बाद मचा विवाद थमता नहीं दिख रहा. आज इस मामले में उस वक्त एक नया मोड़ आ गया, जब दयाशंकर सिंह की पत्नी ने लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली में बसपा सुप्रीमो मायावती सहित चार बसपा नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई.

मायावती के अलावा बसपा के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी, प्रदेश अध्यक्ष रामअचल राजभर और मेवालाल गौतम का नाम भी इसमें शामिल है. लखनऊ पुलिस ने इस मामले में दयाशंकर सिंह की पत्नी और मां की तहरीर पर भारतीय दंड संहिता की धारा 120 बी, 153ए, 506 और 509 के तहत मामला दर्ज किया है.

'परिवार को घसीटने से सदमे में'

स्वाति सिंह का आरोप है कि मायावती सहित इन वरिष्ठ नेताओं के बहकावे में आकर बीएसपी के कार्यकर्ताओं के द्वारा उन्हें, उनकी बेटी और उनके परिवार को गाली और जान से मारने की धमकी दी जा रही है.

गौरतलब है कि स्वाति सिंह ने एफआईआर दर्ज कराने से पहले कहा था कि उनके पति ने जो शब्द प्रयोग किए उसके लिए उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई गई, लेकिन उसी मामले को लेकर आज उनके पति के साथ उन्हें, उनकी नाबालिग बेटी और 80 साल की सास को भी घसीटा जा रहा है.

उन्होंने कहा कि मेरे परिवार में पति के अलावा कोई और राजनीति में सक्रिय नहीं है. इस पूरे मामले में जिस तरह से मुझे, मेरी बेटी और मेरी सास को परेशान किया गया है. उससे मैं सदमे में हूं.

स्वाती ने कहा कि मायावती जो एक दिन पहले उनके पति के बयान पर छी-छी कर रही थीं, वे अब कहां हैं जब उनकी स्वयं की पार्टी के नेता, एक पत्नी, मां और नाबालिग बेटी के खिलाफ अभद्र नारेबाजी कर रहे हैं.

'एहसास कराने के लिए विरोध'

इस बीच बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि कार्यकर्ताओं ने जो किया वह दयाशंकर सिंह को यह ‘एहसास’ कराने के लिए था कि अगर किसी महिला पर अभद्र टिप्पणी की जाती है, तो कैसा महसूस होता है.

गौरतलब है कि प्रदर्शन के दौरान बसपा समर्थकों ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल दयाशंकर सिंह के लिए तो किया ही साथ ही उनके परिवार को लेकर भी आपत्तिजनक टिप्पणी की. 

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि जब दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह के इस बयान के बारे में उन्हें जानकारी मिली कि उन्हें बसपा कार्यकर्ताओं द्वारा धमकी मिल रही है, तो उन्होंने खुद लखनऊ के कार्यकर्ताओं से बात की.

मायावती ने कहा कि मुझे जानकारी दी गयी कि बसपा कार्यकर्ताओं ने किसी के लिए न तो गलत भाषा का प्रयोग किया और न ही किसी को धमकी दी. हालांकि उन्होंने स्वाति को नसीहत देते हुए कहा कि उन्हें अपने पति के हरकत की आलोचना करनी चाहिए थी.

First published: 22 July 2016, 17:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी