Home » इंडिया » dayashankar singh again comment on mayawati regarding his wife & daughter
 

दयाशंकर सिंह ने कहा, क्या मायावती से कम है मेरी मां, पत्नी और बेटी की इज्जत?

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 July 2016, 17:29 IST
(एजेंसी)

बीएसपी प्रमुख मायावती के लिए अभद्र शब्दों के प्रयोग के बाद बीजेपी से निलंबित यूपी के पूर्व उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने एक बार फिर मांफी मांगते हुए कहा कि क्या इज्जत सिर्फ मायावती की है, उनकी मां, पत्नी और बेटी की नहीं, जिन्हें बसपा नेताओं के द्वारा अश्लील गालियां दी गई हैं.

दयाशकर सिंह कानून के शिकंजे से अब भी फरार चल रहे हैं. उनके खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. लेकिन पुलिस उन्हें अब भी गिरफ्तार नहीं कर पाई है. वहीं, दूसरी ओर अंग्रेजी समाचार पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया ने दया शंकर सिंह से एक गुप्त स्थान पर इंटरव्यू किया है.

दयाशंकर सिंह ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिये इंटरव्यू में कहा है कि मैं कभी भी पुलिस के सामने आने को तैयार हूं लेकिन उससे पहले मुझे और मेरे परिवार को उचित सुरक्षा मिले.

इसके साथ ही दयाशंकर सिंह ने अपने पुराने बयान को सुधारते हुए कहा, "मैं मानता हूं कि मैंने अपने बयान में मायावती जी के लिए गलत शब्दों का प्रयोग किया, लेकिन मैं इस बात पर आज भी कायम हूं कि उनकी पार्टी में टिकट की खरीद-फरोख्त होती है."

उन्होंने आगे कहा, "इसे केवल मैंने नहीं बल्कि बसपा के पूर्व नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने भी कहा था. मैं अपने द्वारा प्रयोग किये गए अपशब्दों के लिए आज भी खेद प्रकट करता हूं, लेकिन इसके साथ ये भी कहना चाहता हूं कि मायावती ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को मेरी पत्नी और बेटी के खिलाफ भड़काया."

दयाशंकर ने कहा, "इसमें कोई विवाद नहीं कि जो मैंने कहा वो गलत था, मुझे ऐसा नहीं कहना चाहिए था. 19 मई को मऊ में मीडिया के सवाल के जवाब में मैंने गलत उदाहरण दिया था. लेकिन बीएसपी प्रमुख की शैली है कि जो भी ज्यादा पैसे देता है उसे ही टिकट देतीं हैं. मैंने फौरन माफी मांगी थी और आज फिर मांग रहा हूं."

निलंबित बीजेपी नेता ने आगे कहा, "मैं कानून और पुलिस के साथ सहयोग करने के लिए तैयार हूं. बशर्ते इससे पहले प्रशासन मुझे और मेरे पूरे परिवार को सुरक्षा प्रदान करने का आश्वासन दे. बीएसपी कार्यकर्ता मेरी जुबान काटने की धमकी दे रहे हैं."

सिंह ने कहा, "बीएसपी कार्यकर्ताओं और नेताओं की मेरी वृद्ध मां, नाबालिग बेटी और पत्नी के बारे में अपशब्द कहने की हिम्मत कैसे हुई? क्या मायावती से कम सम्मान है मेरी मां, पत्नी और बेटी का. बीएसपी कार्यकर्ताओं के द्वारा मेरे परिवार को लगातार जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं और प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ है.

मुझे यह नहीं समझ आ रहा है कि इसमे मेरे परिवार वालों की क्या गलती है, आखिर क्यों बीएसपी वाले मेरी मां, पत्नी और मेरी बेटी को प्रताड़ित कर रहे हैं. मेरी पत्नी ने एफआईआर दर्ज कराई है तो कानून अपना काम करेगा लेकिन मायावती अपने नेताओं पर कार्रवाई क्यों नहीं करतीं?"

वहीं, इस घटना से अलग दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह ने बेटी की तबीयत अचानक खराब हो जाने के कारण रविवार को होने वाला धरना कार्यक्रम रद्द कर दिया है.

हालांकि वह इस मामले में राज्यपाल से मुलाकात करेंगी. दयाशंकर की पत्नी का कहना है कि बीएसपी कार्यकर्ताओं के ऐसे बयान से मेरी 12 साल की बेटी सदमे में है.

स्वाती सिंह के मोर्चा खाले जाने के बाद से मायावती बैकफुट पर आ गई हैं. इसी कारण बसपा ने रविवार को होने वाला अपना आंदोलन वापस ले लिया है. मायावती रविवार दोपहर को प्रेस कॉन्फ्रेंस और शाम को पार्टी नेताओं के साथ बैठक करेंगी.

First published: 24 July 2016, 17:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी