Home » इंडिया » After PM quote ,Shatrughan Sinha want resignation of Arun Jaitley
 

शत्रुघ्न सिन्हा ने भी मांगा अरुण जेटली से इस्तीफा

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 December 2015, 8:14 IST

डीडीसीए विवाद में कीर्ति आजाद को भाजपा से निकाले जाने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा भी इसमें कूद पड़ हैं. सिन्हा ने ट्विटर पर 'आडवाणी की राह पर चलें' करके कई ट्वीट किया है जिसमें वित्तमंत्री अरुण जेटली पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधा गया है.

अभिनेता और सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट किया है कि वित्त मंत्री होते हुए इस मुद्दे को राजनीतिक रूप से लड़ा जाना चाहिए कानूनी रूप से नहीं. जैसा कि हमारे प्रधानमंत्री जी ने भी कहा कि हमारे वित्त मंत्री को आडवाणीजी की तरह खुद को बेदाग साबित करना चाहिए. 

सिन्हा ने पूर्व क्रिकेटर और सांसद कीर्ति आजाद को हीरो बताया है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि कीर्ति आजाद आज के हीरो हैं. मैं अपने मित्रों से अनुरोध करता हूं कि जो भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहे हैं उनका साथ दीजिए. 

वहीं, एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि अक्सर न्यूटन के तीसरे नियम की बात होती है. बहुत दुख होता है यह कहते हुए कि जिस पार्टी की अपनी अलग पहचान थी, आज वह मतभेदों की पार्टी बन गई है. 

मोदी के बयान के बाद शुरू हुई सरगर्मी

मंगलवार को डीडीसीए के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जैसे हवाला मामले में लाल कृष्ण आडवाणी बेदाग बाहर आ गए थे, अरुण जेटली भी उसी तरह बाहर आ जाएंगे. 

मोदी के इस बयान ने इस विवाद को जन्म दे दिया है कि क्या जेटली को आडवाणी की ही तरह इस्तीफा देने का इशारा किया गया है. क्योंकि हवाला मामले में नाम सामने आने के बाद से लेकर जांच का परिणाम सामने आने तक आडवाणी ने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था. 

येचुरी ने भी मिलाया सुर में सुर

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी ने मंगलवार को कहा कि आडवाणी की तुलना करके प्रधानमंत्री ने अरुण जेटली को संकेत दिया है कि उन्हें इस्तीफा देना चाहिए, खुद को पाक-साफ साबित करना चाहिए और फिर वापसी करनी चाहिए. मैं इसे जेटली को मिले इस संकेत के तौर पर देखता हूं कि आप भी वही करिए. 

First published: 24 December 2015, 8:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी