Home » इंडिया » declaration of gorakhpur phulpur lok sabha byelection and lok sabha assembly by election in bihar
 

सीएम योगी और डिप्टी सीएम केशव मौर्य की लोकसभा सीट पर इस तारीख को होगा उपचुनाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 February 2018, 15:59 IST

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के इस्तीफे से खाली हुई गोरखपुर और फूलपुर लोक सभा सीटों के लिए उपचुनाव की तारीख का ऐलान हो गया है. चुनाव आयोग ने बताया है कि गोरखपुर और फूलपुर में मतदान 11 मार्च को होंगे और मतों की गिनती 14 मार्च को होगी. वहीं बिहार की खाली सीटों के लिए भी उपचुनाव की तारीख का ऐलान हो गया है.

योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री और केशव प्रसाद मौर्य के डिप्टी सीएम बनने के बाद उनके इस्तीफे से ये सीटें खाली हुई थी. दोनों ही खाली सीटों पर 22 मार्च तक चुनाव कराए जाने थे. चुनाव आयोग ने कहा कि गोरखपुर और फूलपुर सहित बिहार की एक लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव ईवीएम से होगा और वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा.

 

चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान करते हुए कहा कि उपचुनाव के लिए नामांकन की अंतिम तिथि 20 फ़रवरी है. 23 फ़रवरी तक उम्मीदवार अपने नाम वापस ले सकते हैं.

दोनों ही सीटों के लिए बीजेपी ने तैयारियां शुरू कर दी हैं. भारतीय जनता पार्टी प्रदेश संगठन ने सोमवार को दो लोकसभा क्षेत्रों गोरखपुर और फूलपुर के उपचुनावों के लिए दायित्व सौंप दिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पिछले एक सफ्ताह में दो बार गोरखपुर का दौरा कर करोड़ों की सौगात दे चुके हैं. वहीं उन्होंने ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठककर चुनाव तैयारियों का जायजा भी लिया है.

ये दोनों ही सीटें बीजेपी के लिए उपचुनाव में नाक के सवाल से कम नहीं हैं. इस सीट पर जीत के कई मायने निकलेंगे, लिहाजा विपक्ष भी इन सीटों पर बीजेपी को घेरने की कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहा है.

 

लोकसभा उपचुनाव को लेकर यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का कहना है कि मेरे परिवार का कोई सदस्य फूलपुर लोकसभा सीट का उपचुनाव नहीं लड़ेगा. उन्होंने कहा कि परिवारवाद की स्थिति बीजेपी में नहीं है. हमारे यहां संसदीय बोर्ड उपचुनाव के उम्मीदवारों का नाम तय करेगा और जल्द इसकी घोषणा की जाएगी.

उन्होंने चुनाव आयोग द्वारा उपचुनाव की तिथि घोषित करने का स्वागत किया और कहा कि दोनों लोकसभा उपचुनाव बीजेपी ऐतिहासिक अंतर से जीतेगी.

वहीं बिहार के अररिया लोकसभा और कैमूर व जहानाबाद विधानसभा क्षेत्र के लिए उपचुनाव की घोषणा हो चुकी है. इन सीटों पर भी 11 मार्च को मतदान होगा और 14 मार्च को मतगणना होगी. इसके लिए 13 फरवरी से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो जायेगी. 20 फरवरी तक उम्मीदवार नामांकन भर सकते हैं.

राजद सांसद तस्‍लीमुद्दीन के निधन के बाद अररिया लोकसभा सीट खाली हो गई थी, वहीं जहानाबाद के राजद विधायक मुंद्रिका सिंह यादव और भभुआ के भाजपा विधायक आनंद भूषण पांडेय की मौत के बाद ये दोनों सीट खाली हो गई थी.

First published: 9 February 2018, 14:37 IST
 
पिछली कहानी