Home » इंडिया » Delhi Air Pollution reached to hazardous level before diwali firecrackers
 

दिवाली के पटाखों के पहले ही जहरीली हुई दिल्ली की हवा, सांस लेना भी होगा मुश्किल

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 October 2018, 14:28 IST

दिवाली में पटाखों के कारण होने वाले वायु प्रदूषण से निपटने के लिए दिल्ली सरकार से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक ने निर्देश जारी किए हैं. लेकिन दिवाली से पहले ही दिल्ली में वायु की गुडवत्ता खतरनाक स्तर पर पहुंच चुकी है. दिल्ली का न्यूनतम तापमान 15.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. तापमान गिरने के कारण प्रदूषण की समस्या और भी ज्यादा गंभीर होती जा रही है.

दिल्ली में सबसे दूषित हवा जहांगीरपुरी में पाई गई है, जिसके एकदम नजदीक ही भलस्वा लैंडफिल साइट है. यहां कचरे के ढेर में कई दिनों से आग लगी है. और इस धुंए से आसपास के कई इलाकों में सांस लेना बहुत ज्यादा मुश्किल हो गया है.

 

सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश के बाद कई पटाखा कारोबारी हो जाएंगे दिवालिया !

शुक्रवार को दिल्ली की हवा की क्वालिटी एअर क्वॉलिटी इंडेक्स में खतरनाक स्तर पर पाई गई है. पंजाबी बाग में पीएम 10 का स्तर 429 पाया गया जो कि खतरनाक श्रेणी में आता है. पीएम10 स्तर का मतलब है 'अस्वास्थ्यकर'. वहीं एअर क्वॉलिटी इंडेक्स में आरकेपुरम में 290 और पूसा में 283 दर्ज किया गया.

इस गंभीर मामले की वजह की संवेदनशीलता को देखते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जनता से पर्यावरण नुकसान न पहुंचाने की अपील की है. कोविंद ने कहा, ''यह त्योहार का सीजन है. यहां के लोग बढ़ते प्रदूषण से परेशानी झेल रहे हैं. सामाजिक संगठनों को लोगों के बीच जागरूकता फैलानी चाहिए ताकि पर्यावरण को नुकसान पहुंचाए बिना पर्व-त्योहार मनाए जाएं.''

First published: 26 October 2018, 14:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी