Home » इंडिया » Delhi: Air Quality Index at 472 in the severe category at ITO as national capital witnesses heavy smog
 

Delhi Pollution: राजधानी दिल्ली में कोरोना के बाद प्रदूषण का कहर, खतरनाक स्तर पर पहुंचा AQI

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 November 2020, 11:59 IST

Delhi Pollution: देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के बाद प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है. दिल्ली में प्रदूषण से जीना मुश्किल हो गया है. राजधानी दिल्ली में सोमवार को हालत इतनी बुरी हो गई है कि दिल्ली-एनसीआर में कई जगहों पर एयर क्वालिटी इंडेक्स यानि AQI पर PM 2.5 का लेवल 500 के करीब पहुंच गया है.

इस वजह से पूरी दिल्ली तथा एनसीआर के इलाकों में प्रदूषण और धुंध की चादर लिपट गई है. दिल्ली में सबसे ज्यादा बदतर स्थिति ITO के पास है. ITO में एयर क्वालिटी इंडेक्स 472 है. यह काफी खतरनाक है. Central Pollution Control Board यानि CPCB के अनुसार, दिल्ली के आनंद विहार में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 484 है.

इसके अलावा  मुंडका में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 470, ओखला फेज़ 2 में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 468, बवाना में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 483, आईजीआई एयरपोर्ट पर एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 470, सोनिया विहार में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 483, वज़ीरपुर में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 470, रोहिणी में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 470, आरके पुरम में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 467, मुंडका में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 477 और पटपड़गंज में एयर इंडेक्स पर PM 2.5 का स्तर 481 है.

दिल्ली में प्रदूषण की समस्या कोरोनावायरस की वजह से और डरावनी हो रही है. पिछले कुछ दिनों में देश की राजधानी में कोरोना वायरस के मामले रिकॉर्ड तेजी से बढ़ रहे हैं. निजी अस्पतालों तथा केंद्र सरकार के संस्थानों में इस वजह से वेंटिलेटर के साथ-साथ आईसीयू बिस्तर भी भर रहे हैं. शुक्रवार को पहली बार देश की राजधानी में कोविड-19 के एक दिन में सात हजार से अधिक मामले दर्ज किए गए.

दिल्ली में कोरोना संक्रमितों की संख्या फिलहाल 4.23 लाख से अधिक पहुंच गई है. पिछले 24 घंटों के दौरान दिल्ली में रिकॉर्ड 7745 कोरोना वायरस के मामले सामने आए. इस दौरान दिल्ली में कोरोना वायरस से 77 लोगों ने अपनी जान गंवाई है. दिल्ली में अब कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 6989 हो गई है.

विशेषज्ञों का मानना है कि दिल्ली में वायु गुणवत्ता की स्थिति और भी तेजी से बिगड़ेगी. लोगों की आवाजाही की वजह से सुरक्षा मानदंडों का पालन करने में लापरवाही सामने आ रही है. इस कारण दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.

Coronavirus: ठंड बढ़ने के साथ दिल्ली में बदतर हुई स्थिति, सबसे ज्यादा आए 7,745 नए मामले

भारत-चीन विवाद: 8वें दौर की बैठक रही बेनतीजा, 6 नवंबर को हुई थी कमांडर लेवल की बातचीत

First published: 9 November 2020, 11:59 IST
 
अगली कहानी