Home » इंडिया » Delhi Catholic Church says democracy is in danger writes letter to priests and ask to pray for country
 

आर्कबिशप ने पादरियों से कहा- देश में अशांति का माहौल, मोदी सरकार को हटाने के लिए करें प्रार्थना

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 May 2018, 13:26 IST

दिल्ली में चर्च के आर्कबिशप ने एक खत लिखकर विवाद खड़ा कर दिया है. इस खत में उन्होंने अशांत राजनैतिक वातावरण की बात करते हुए कहा कि इसकी वजह से लोकतंत्र तथा धर्मनिरपेक्षता को खतरा है. खत में सभी पादरियों से वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले देश के लिए प्रार्थना करने का आग्रह किया गया है.

आर्कबिशप अनिल कूटो ने अपने खत में प्रार्थना अभियान चलाने तथा प्रत्येक सप्ताह में देश के लिए एक दिन व्रत रखने के लिए कहा है. खत के साथ एक प्रार्थना भी भेजी गई, जिसे साप्ताहिक सामूहिक प्रार्थना सभा में पढ़ा जाना चाहिए.

खत में आर्कबिशप लिखते हैं, "हम एक 'अशांत राजनैतिक वातावरण' देख रहे हैं, जो हमारे संविधान में निहित लोकतांत्रिक सिद्धांतों तथा हमारे देश के धर्मनिरपेक्ष स्वरूप के लिए खतरा है. देश तथा राजनेताओं के लिए हमेशा प्रार्थना करना हमारी प्रतिष्ठित परम्परा है, लेकिन आम चुनाव की ओर बढ़ते हुए यह और भी ज़रूरी हो जाता है. अब जब हम 2019 की ओर देखते हैं, जब हमारे पास नई सरकार होगी, तो आइए, हम देश के लिए 13 मई से शुरू करते हैं एक प्रार्थना अभियान."

 

आर्कबिशप के इस खत के बाद भारतीय जनता पार्टी भड़क गई है. बीजेपी के कई नेताओं ने खत के विरोध में बयान जारी किए हैं. खत पर केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जाति और धर्म के बंधन को तोड़कर बिना किसी भेदभाव के सबके विकास के लिए काम कर रहे हैं.

पढ़ें- कर्नाटक में कांग्रेस-JDS का अपवित्र गठबंधन, जनता ने BJP को समर्थन दिया : अमित शाह

उन्होंने कहा कि हम केवल चर्च को प्रगतिशील मानसिकता के साथ सोचने के लिए कह सकते हैं. हमारी सरकार 'सबका साथ सबका विकास' वाली सरकार है.

वहीं केंद्रीय मंत्री गिरीराज सिंह ने कहा कि हर क्रिया की प्रतिक्रिया होती है. मैं ऐसा कोई कदम नहीं उठाऊंगा जिससे सांप्रदायिक सौहार्द को नुकसान पहुंचे, लेकिन यदि चर्च लोगों से प्रार्थना करने के लिए कहता है ताकि मोदी की सरकार न बने तो देश को सोचना होगा कि दूसरे धर्म के लोग भी 'कीर्तन-पूजा' करेंगे.

First published: 22 May 2018, 13:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी