Home » इंडिया » Delhi EX CM Sheila Dixit Passed away at the age of 81
 

शीला दीक्षित के निधन पर मोदी समते इन नेताओं ने जताया शोक

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 July 2019, 17:28 IST

दिल्ली कांग्रेस की अध्यक्ष और 15 सालों की दिल्ली की मुख्यमंत्री रही शीला दीक्षित का 81 साल की उम्र में निधन हो गया. शीला लंबे समय से दिल की बीमारी से जूझ रही थीं. शनिवार सुबह उन्हें उल्टियों के बाद एस्कॉर्ट अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उन्होंने दोपहर 3:55 पर अंतिम सांस ली.

शीला दीक्षित को कांग्रेस का कद्दवार नेता माना जाता है. शीला का जन्म 31 मार्च 1938 को पंजाब के कपूरथला में हुआ था. शीला ने अपनी शुरूआती शिक्षा दिल्ली के कॉन्वेंट ऑफ जीसस एंड मैरी स्कूल से ली. शीला ने इसके बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी के मिरांडा हाउस कॉलेज से मास्टर्स ऑफ आर्ट्स की डिग्री हासिल की. वहीं उनके निधन पर क्या आम क्या ख़ास सभी ने दुख प्रकट किया है.


पीएम मोदी ने दुख जताते हुए ट्वीट किया,'शीला दीक्षित जी के निधन पर बेहद दुख हुआ.शीला दीक्षित शानदार व्यक्तित्व की धनी महिला थीं, दिल्ली के विकास में उनका बड़ा योगदान रहा. उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना. ओम शांति.'

राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती शीला दीक्षित के निधन की खबर सुनकर गहरा दुख हुआ. वो बड़ी कांग्रेसी नेता थीं जो अपने स्वभाव के लिए जानी जाती थी. पार्टी लाइन से ऊपर उठकर शीला जी का काफी सम्मान किया जाता था.

राहुल गांधी ने शाीला जी के निधन पर ट्वीट किया, शीला दीक्षित जी के निधन की खबर सुनकर क्षुब्ध हूं, कांग्रेस पार्टी की प्यारी बेटी, जिनके साथ मेरा काफी अच्छे संबंध थे. इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और दिल्ली की जनता के साथ है जिनकी उन्होंने 15 सालों तक सेवा करी.

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तीवारी ने ट्वीट किया, मैं उनसे हाल ही में मिली था, उनके निधन की खबर सुनकर काफी हैरान हूं.मुझे याद है उन्होंने किस तरह एक मां के रूप में मेरा स्वागत किया था. भगवान से प्रार्थना करता हूँ कि इस दुखद घड़ी में उनके परिजनों को लड़ने की शक्ति प्रदान करें.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने शीला दीक्षित के निधन पर कहा, शील जी के निधन की खबर सुनकर काफी दुखी हूं. वो मुझे प्यार करती थी. उन्होंने दिल्ली की जनता और देश के लिए जो भी किया है, जनता हमेशा याद रखेगी. वो कांग्रेस की एक बड़ी नेता थी. कांग्रेस पार्टी के लिए उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है.   

कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा कि उनका पार्थिव शरीर उनके घर पर एक डेढ़ घण्टे बाद लाया जाएगा. उसके बाद तय किया जाएगा कि उनके शरीर को कब कांग्रेस हेडक्वार्टर लाया जाएग और उसके बाद निगम बोध घाट पर अंतिम संस्कार के लिए जाया जाएगा.

वहीं पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया,'मुझे शीला दीक्षित जी के आकस्मिक निधन के बारे में जानकर दुख हुआ. हम राजनीति में विरोधी थे लेकिन निजी जीवन में दोस्त थे. वह एक बेहतरीन इंसान थीं.'

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शीला दीक्षित के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया,
'कांग्रेस पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती शीला दीक्षित जी के निधन की खबर सुनकर अत्यंत दुःख हुआ. मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों के साथ हैं और ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि दिवंगत आत्मा को वे अपने श्री चरणों में स्थान दें.ॐ शांति.'

अपने इन फैसलों से सदियों तक जानी जाएंगी शीला दीक्षित, बदल दी थी दिल्ली की तस्वीर

First published: 20 July 2019, 17:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी