Home » इंडिया » Women-only liquor store in east Delhi
 

दिल्ली में सिर्फ महिलाओं के लिए खुली शराब की दुकान

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST

पूर्वी दिल्‍ली स्थित स्‍टार सिटी मॉल में एक शराब की दुकान खासतौर पर महिलाओं के लिए खुली है. दुकान के ऊपर एक गुलाबी रंग की पट्टी पर लिखा है यह हिस्सा केवल महिलाओं के लिए है. इस हिस्से में महिलाएं ही शराब बेचेंगी. उनकी सुरक्षा के लिए गार्ड भी तैनात होगा.

देश की राजधानी में महिला स्पेशल टैक्सी सर्विस, मेट्रो में महिलाओं के लिए अलग से कोच, महिलाओं के लिए महिला ड्राइवर, ऑटोरिक्‍शा जैसी सेवाएं पहले से ही मौजूद हैं. अब महिला स्पेशल सेवा में शराब की दुकान भी खुल गयी है.

नई सेवा शुरू करने वाली दुकान का कहना है कि उसने महिलाओं को अच्‍छा माहौल देने के लिए ऐसा किया गया है. दुकानदार के मुताबिक नए सेक्‍शन का मकसद महिला ग्राहकों को आकर्षित करना और शराब खरीदने में उनकी मदद करना है, ताकि वे बिना किसी हिचकिचाहट शराब खरीद सकें.

यहां पर महिलाओं को देसी-विदेशी हर तरह की शराब उपलबध होगी.

शराब और विवाद

एक तरफ दिल्ली में महिलाओं के लिए शराब की नई दुकान खुली है तो दूसरी तरफ एक दिन पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने केरल में शराब की बिक्री को प्रतिबंधित करते हुए सिर्फ पांच सितारा होटलों में शराब बेचने के सरकार के फैसले पर मुहर लगा दी है.

हाल ही में बिहार के मुख्यमंत्री बने नीतीश कुमार ने अपने राज्य में शराब पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि वो यह फैसला बिहार की महिला वोटरों से किए गए वादे को निभाने के लिए कर रहे हैं.

बिहार को ड्राई स्टेट की बनाने की घोषणा करते हुए नीतीश ने कहा कि राज्य में वर्ष 1977-78 में भी शराब पर बैन लगाया था लेकिन इसे प्रभावी तरीके से लागू नहीं किया जा सका.

शराब निषेध दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में नीतीश कुमार ने कहा था की शराब से सबसे ज्यादा नुकसान महिलाएं और कम आय वाले लोगों को होता है.

दिल्ली में भी शराब पीने की उम्र को लेकर विवाद हुआ था. केजरीवाल के मंत्री ने विवाद खड़ा कर दिया था. नेशनल रेस्त्रां एसोसिएशन ऑफ इंडिया की 33वीं सालाना बैठक में दिल्ली के पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा ने कहा था कि युवाओं के शराब पीने की कानूनी उम्र 25 साल है जो ठीक नहीं. इसे कम किया जाना चाहिए.

मंत्री कपिल मिश्रा ने दिल्ली के रेस्त्रां और इवेंट मैनेजमेंट कंपनियों से कहा कि वो शराब पीने की सही उम्र के सुझाव उन्हें दे. जिसपर सरकार विचार करेगी. कपिल मिश्रा ने कहा था की सरकार को कुछ पुराने कानूनों को बदलने की जरूरत है.

अधिकांश भारतीय राज्यों और संघ शासित प्रदेशों में कुछ दिन ऐसे होते हैं जिन्हे ड्राई डे कहते हैं. इन दिनों शराब की बिक्री पर नहीं होती है. इस दिन सार्वजनिक रेस्तरां में शराब नहीं दी जाती है.
First published: 30 December 2015, 5:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी