Home » इंडिया » Delhi Government says chief secretary returns files relates budget speech effect of anshu prakash slap case
 

दिल्ली सरकार ने लगाया मुख्य सचिव पर फाइलें लौटाने का आरोप

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 March 2018, 8:56 IST

केजरीवाल सरकार और अधिकारीयों के बीच का तनाव अभी कम होता नहीं दिख रहा है. हाल ही में मुख सचिव थप्पड़कांड को लेकर अधिकारियों और दिल्ली सरकार के बीच तनाव बना हुआ है. दिल्ली के मुख्मंत्री अरविंद केजरीवाल की सरकार ने आरोप लगाया है कि मुख्य सचिव ने बजट भाषण से संबंधित फाइलें वापस लौटा दी है.

जबकि अधिकारियों के एक फोरम ने इस बात से इंकार किया है. सरकार ने एक बयान में कहा कि यह बहुत ही आश्चर्यजनक है दिल्ली के बजट से कुछ ही दिन पहले मुख्य सचिव ने वार्षिक बजट भाषण की तैयारी के लिए मुख्यमंत्री की टिप्पणियों वाली महत्वपूर्ण फाइलें स्वीकार करने से इनकार कर दिया. आरोप को अधिकारियों के एक मंच ने शीर्ष नौकरशाह का‘‘ उत्पीड़न’’ करार दिया.

 

सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘‘ यद्यपि, सुबह जब फाइलें भेजी गईं, मुख्य सचिव के आवास द्वारा सूचित किया गया कि आज रविवार होने के चलते, इन फाइलों को सोमवार को कामकाजी घंटे के दौरान मुख्य सचिव के कार्यालय को भेजा जाए.’’सरकार के दावों पर दिल्ली सरकार के कर्मचारियों के ज्वाइंट फोरम ने कहा कि फाइलें पहुंचने के समय मुख्य सचिव घर पर नहीं थे क्योंकि रविवार को छुट्टी होती है.

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र: 30 हजार किसान विधानसभा का घेराव करने आजाद मैदान पहुंचे, सरकार बातचीत के लिए तैयार

गौरतलब है कि 19 फरवरी को रात मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पर आप विधायकों प्रकाश जारवाल और अमानतुल्ला खान ने मुख्य सचिव के साथ बदसलूकी की थी. इसको लेकर मुख्य सचिव ने दोनों विधायकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी. प्रकाश जारवाल को जमानत मिल चुकी है जबकि, अमानतुल्ला खान अभी जेल में हैं.

 

First published: 12 March 2018, 8:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी