Home » इंडिया » Delhi Metro reopening from today at Yellow line after 169 days of lockdown
 

दिल्ली मेट्रो का 169 दिन बाद 'लॉकडाउन' समाप्त, यलो लाइन पर आज से शुरु हुआ संचालन, ये हैं सफर के नए नियम

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 September 2020, 7:55 IST

कोरोना वायरस (Corona Virus) और लॉकडाउन (Lockdown) के चलते देशभर में 169 दिनों से बंद मेट्रो (Metro) की सेवाएं आज से शुरु हो गई. पहले दिन दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) की यलो लाइऩ (Yellow Line) की सेवाएं शुरु की गई है. सोमवार सुबह सात बजे हुडा सिटी सेंटर (Huda City Center) से समयपुर बादली (Samaypur Badli) के लिए पहली मेट्रो रवाना हुई. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी मेट्रो की सेवाएं दोबारा से बहाल कर दी गई हैं. वहीं जयपुर, चेन्नई और बेंगलुरु में एक बार फिर से मेट्रो सेवा की शुरुआत हो गई है.

हालांकि, कोलकाता मेट्रो आज से शुरू नहीं हो रही है. देश की राजधानी होने के नाते दिल्ली मेट्रो सेवा पर पूरे देश में सबसे अधिक नजर है. सात सितंबर से शुरु हुई दिल्ली मेट्रो को चरणबद्ध तरीके से खोला जा रहा है. आज फिलहाल सिर्फ दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन जो समयपुर बादली से हुडा सिटी सेंटर तक जाती है उसी की सेवाएं शुरु की गई हैं. इसके लिए दिल्ली मेट्रो के परिचालन को दो शिफ्ट में किया जा रहा है. यह दो पाली में सुबह और शाम चार-चार घंटे के लिए चलेगी. चरणबद्ध तरीक से धीरे-धीरे 12 सितंबर तक मेट्रो की सभी लाइनों पर परिचालन शुरू कर दिया जाएगा.


उत्तर प्रदेश: जिलाधिकारी पर आरोप- CMO को कहा गधा, बोले- खाल खींचकर जमीन में गाड़ दूंगा

इसके साथ ही परिचालन का समय भी बढ़ाया जाएगा. मेट्रो ने यात्रियों से अपील की है कि वह संक्रमण से बचने के लिए उठाए जा रहे अहम कदमों का पालन करें. दिल्ली मेट्रो की यलो लाइन पर सुबह सात बजे सबसे पहले हुड़ा सिटी सेंटर से समयपुर बादली के लिए पहली मेट्रो रवाना हुई. कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए कई जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं. इसके लिए मेट्रो परिसर में घुसने के लिए सभी यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क और हैंड सैनिटाइजेशन जैसी प्रक्रियाओं का ख्याल रखना होगा. मेट्रो संचालन से पहले सोशल डिस्टेंसिंग के जरिए संक्रमण को रोकने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं.

महाराष्ट्र: CM ठाकरे को जान से मारने की मिली धमकी, दाऊद के नाम पर दुबई से आया फोन

स्टेशन के सीमित गेट ही प्रवेश और निकास के लिए खुलेंगे. प्रवेश गेट से लेकर एएफसी गेट, प्लेटफार्म से लेकर कोच के अंदर पर दूरी बनाए रखने के लिए मार्किंग की गई है. पूरी यात्रा को कैशलेस और कांटेक्टलेस बनाने के लिए सिर्फ स्मार्ट कार्ड यात्रियों को सफर की मंजूरी दी गई है. सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी. साथ ही सेनेटाइजेशन किए जाने के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा. इसके अलावा सामान्य दिनों में जहां मेट्रो 2 मिनट 44 सेकेंट पर मिलती है वहीं फिलहाल ये 5 मिनट 44 मिनट के बाद मिलेगी. इससे यात्रा का समय बढ़ेगा. मेट्रो ने अपील की है कि यात्री भीड़ ना हो इसलिए समय लेकर यात्रा के लिए निकले.

Video: श्रीलंका से भारत आ रहे तैल के टैंकर में लगी थी भीषण आग, भारतीय नौसेना ने अब पा लिया काबू

SSR केस: NCB दफ्तर पहुंचीं रिया चक्रवर्ती, ड्रग्स कनेक्शन मामले में होगी पूछताछ

इसके साथ ही मेट्रो स्टेशन पर फेस मास्क लगाना जरूर होगा. स्मार्ट कार्ड के बिना यात्री यात्रा नहीं कर पाएंगे. अगर कोई व्यक्ति बीमार है उसे भी मेट्रो में प्रवेश नहीं मिल सकेगा. स्टेशन के सभी गेट नहीं खुलेंगे, बेवसाइट चेक कर जाएं. यात्रा का समय बढ़ेने के कारण अतिरिक्त समय लेकर ही घर से निकलें. लॉकडाउन के चलते मेट्रो के परिचालन और उससे राजस्व के अलावा उसके लंबे समय से अटके मेट्रो फेज चार के निर्माण में भी देरी हो रही है. दिल्ली मेट्रो को फेज चार पर करीब पांच महीने की देरी हुई है. यह योजना पहले से ही कई कारणों से देर हो चुकी है. फिर लॉकडाउन के चलते यह देर हुआ है.

केरल: 19 साल की कोरोना मरीज को सूनसान में ले जाकर एंबुलेंस ड्राइवर ने किया रेप

First published: 7 September 2020, 7:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी