Home » इंडिया » Delhi NCR stuck in heavy rain, water logging at may places traffic jam all over the city
 

दिल्ली-एनसीआर: दो दिन की बारिश से जीवन अस्त व्यस्त, हथिनी कुंड से छोड़ा गया 1,15,000 क्यूसेक पानी

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2018, 12:58 IST

लगातार दो दिनों से चल रही बारिश के चलते दिल्ली-एनसीआर बुरी तरह से प्रभावित है. शुक्रवार सुबह से ही दिल्ली गाजियाबाद, नोएडा में बारिश शुरू हो गयी. बारिश के कारण मौसम तो खुशनुमा है लेकिन सड़कों की खस्ता हालत की पोल खुल गई है. जगह-जगह से सडकों के धंस जाने की भी खबर आ रही है. जलभराव के कारण ट्रैफिक बुरी तरह प्रभावित रहा. ट्रैफिक जाम से जीवन काफी अस्तव्यस्त हो गया.

 

दिल्ली के गाजीपुर मुर्गा मंडी, मयूर विहार, बदरपुर, आश्रम, पंजाबी बाग, इंद्रलोक, गीता कॉलोनी, धौला कुआं, दिलशाद गार्डन, पहाड़गंज, लक्ष्‍‍‍‍मी नगर, आईटीओ, कालकाजी, बदरपुर समेत प्रमुख मार्गों पर जलभराव की वजह से ट्रैफिक जाम लगा हुआ है.

 

हथिनी कुंड बैराज से छोड़ा गया 1,15,000 क्यूसेक पानी

भारो बारिश के कारण लोगों को जलभराव की अत्यधिक समस्या का सामना करना पड़ा. शुक्रवार सुबह हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से 1,15,000 क्यूसेक पानी यमुना नदी में छोड़ा गया है. एक अधिकारी की मानें तो दिल्ली सरकार के बाढ़ एवं सिंचाई विभाग ने चिंता जहिर की है कि ये पानी दिल्ली तक पहुंच जाएगा. इसे लेकर सरकार ने अलर्ट जारी कर दिया है.

यमुना का जलस्तर भी खतरे के निशान से ऊपर जा चुका है. अधिकारी ने बताया , “ शुक्रवार को जलस्तर के 204 पर पहुंचने का अंदेशा है जो चेतावनी का स्तर है.”

First published: 27 July 2018, 12:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी