Home » इंडिया » Delhi odd even scheme 233 vehicles challan on first day of odd even in delhi
 

दिल्ली की सड़कों पर आज ऑड नंबर की चलेंगी गाड़ियां, पहले दिन इतने लोगों के कटे चालान

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 November 2019, 9:28 IST

दिल्ली को प्रदूषण से मुक्ति दिलाने के लिए सरकार की ओर से चलाई गई ऑड-ईवन स्कीम का आज दूसरा दिन है. पहले दिन नियमों का उल्लंघन करने के मामले में ट्रेफिक पुलिस ने 233 गाड़ियों के चालान काटे. ऑड-ईवन स्कीन दिल्ली में सुबह 8 बजे से लेकर शाम 8 बजे तक लागू है.

वहीं बाइक और अन्य सभी दोपहिया वाहनों को इसमें छूट दी गई है. ऑड-ईवन स्कीम के दूसरे दिन दिल्ली की सड़कों पर सिर्फ ऑड यानी विषम नंबर की गाड़ियां ही चल सकेंगी. यानी जिन गाड़ियों की नंबर प्लेट का आखिरी नंबर विषम होगा वहीं गाड़ियां आज दिल्ली की सड़कों पर चल सकेंगी. वहीं नियमों का उल्लंघन करने वाले का 4000 रुपये का चालान काटा जाएगा.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि उनके कार्यकाल में इस योजना को तीसरी बार लागू किया गया है और इस योजना का पहला दिन सफल रहा. उन्होंने कहा कि पहले दिन दिल्ली की सड़कों पर 15 लाख कारें कम नजर आईं. वहीं इस योजना का उल्लंघन करने के आरोप में बीजेपी नेता विजय गोयल समेत 233 लोगों के चालान काटे गए. बता दें कि सोमवार को बीजेपी नेता विजय गोयल ने ऑड नंबर वाली एसयूवी चलाते हुए ऑड-ईवन नियमों का उल्लंघन किया और इस योजना को केजरीवाल सरकार का ‘‘चुनावी हथकंडा’’ बताया.

बता दें कि ऑड-ईवन परिवहन व्यवस्था को लागू कराने के लिए 2000 असैन्य सुरक्षा स्वयंसेवकों, दिल्ली यातायात पुलिस, राजस्व और परिवहन विभागों की 465 टीमों को तैनात किया गया था. इस दौरान 650 निजी बसों समेत 60,00 बसों को सेवा में लगाया गया ताकि यात्रियों को परेशानी ना हो. ऑड-ईवन योजना के चलते सड़कों पर गाड़ियों की संख्या अन्य दिनों की तुलना में कम नजर आई. बता दें कि सोमवार को सिर्फ ईवन नंबर वाली गाड़ियां ही चलीं.

कई लोगों ने कहा कि वे अपने गंतव्यों पर समय से पूर्व पहुंचे. ऑड संख्या वाले वाहन रखने वाले लोगों ने यात्रा के लिए कारपूलिंग, कैब, ऑटो और सार्वजनिक परिवहन का सहारा लिया. बता दें कि दिल्ली में ऑड-ईवन की शुरु चार नवंबर से हुई है और ये 15 नवंबर तक लागू रहेगी. इनदिनों में लोग सुबह आठ बजे से शाम आज बजे तक स्कीम के मुताबिक ही ऑड या ईवन संख्या वाली गाड़ियों का इस्तेमाल कर सकेंगे.

ये भी पढ़ें-

राम मंदिर पर फैसले की बेताबी, RSS नेताओं ने दिल्ली में डाला डेरा

जानलेवा प्रदूषण पर भड़का सुप्रीम कोर्ट, पूछा- क्या कर रहे हैं केंद्र और दिल्ली सरकार?

SBI के खाता धारक जल्द कर लें ये जरूरी काम वरना फंस जाएगा आपका पैसा

First published: 5 November 2019, 9:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी