Home » इंडिया » Delhi pollution: NGT lifts ban on construction activities; seeks status report in two weeks from Delhi, Punjab, Haryana and Uttar Pradesh
 

NGT ने दिल्ली में ट्रकों की एंट्री और निर्माण कार्य से बैन हटाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 November 2017, 12:12 IST

नेशलन ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने शुक्रवार को दिल्ली में वायु प्रदूषण के स्तर में कमी आने की खबरों के बीच कुछ प्रतिबंधों को हटा दिया है. एनजीटी ने दिल्ली-एनसीआर में निर्माण कार्य पर लगा बैन हटा दिया है. इसके साथ ही दिल्ली में ट्रकों की एंट्री बहाल कर दी गई है. एनजीटी ने कहा है कि CPCB और DPCC के मुताबिक दिल्ली में प्रदूषण खतरनाक स्तर से काफी कम हुआ है. इस वजह से ये बैन हटाया जा रहा है.

हालांकि एनजीटी ने दिल्ली में उद्योगों, कूड़ा जलाने और पराली जलाने को लेकर लगाई गई रोक जारी रखी है. इसके साथ ही कहा है कि ऊंचाई से पानी के छिड़काव से प्रदूषण में काफ़ी कमी आती है. ITO में बिल्डिंग से पानी के छिड़काव से पीएम 10 और पीएम 2.5 काफ़ी कम हुआ है. उन्होंने दिल्ली एनसीआर सहित पड़ोसी राज्यों को पानी के छिड़काव करने के आदेश दिए हैं.

एनजीटी ने दिल्ली सरकार के साथ ही पड़ोसी राज्यों को प्रदूषण से निपटने के लिए दो हफ्तों के भीतर स्टेटस रिपोर्ट जारी करने को कहा है. दिल्ली के अलावा हरियाणा,उत्तरप्रदेश और पंजाब को ये रिपोर्ट दाखिल करने को कहा गया है. एनजीटी नेे कहा कि पीएम 2.5 400 और पीएम 10 600 के ऊपर जाता है तो ये एक्शन प्लॉन ऑटोमेटिक लागू कर दिया जाए. इसके अलावा  एनजीटी ने कहा है कि ट्रकों की एंट्री को मंजूरी देने के साथ ही कहा है कि इस मामले में LG का आदेश का पालन किया जाए.

First published: 17 November 2017, 12:12 IST
 
अगली कहानी