Home » इंडिया » Delhi's Saket court extends judicial custody of AAP MLA Dinesh Mohaniya till July 11
 

आप विधायक दिनेश मोहनिया छेड़छाड़ केस में 11 जुलाई तक रहेंगे तिहाड़

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 June 2016, 16:36 IST
(पीटीआई)

महिलाओं से बदसलूकी के आरोप में गिरफ्तार आम आदमी पार्टी के विधायक दिनेश मोहनिया की मुश्किलें बढ़ गई हैं. दिल्ली की साकेत अदालत ने उनकी न्यायिक हिरासत की मियाद बढ़ा दी है. 

दिल्ली के संगम विहार से आप विधायक दिनेश मोहनिया ने इस मामले में अदालत में जमानत याचिका दाखिल की थी. लेकिन आज हुई सुनवाई के दौरान अदालत ने उनकी अर्जी खारिज कर दी.

आप विधायक मोहनिया को नाटकीय अंदाज में शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था. इस मामले में एक महिला ने बयान दर्ज कराया था, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था.

दिल्ली की साकेत कोर्ट ने दिनेश मोहनिया की न्यायिक हिरासत अब 11 जुलाई तक के लिए बढ़ा दी है. पिछली सुनवाई के दौरान उन्हें दो दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेजा गया था.

बुजुर्ग को थप्पड़ मारने का आरोप

शनिवार को आप विधायक दिनेश मोहनिया एक नए विवाद में फंस गए. दिल्ली के तुगलकाबाद इलाके के बुजुर्ग राकेश का आरोप है कि जब वो दिनेश मोहनिया को नहीं पहचान पाए, तो उनसे बदसलूकी की गई.

बुजुर्ग का आरोप है कि पानी की संकट के बारे में जब उन्होंने बात की तो आप विधायक दिनेश मोहनिया ने उन्हें थप्पड़ मार दिया. विधायक के समर्थकों पर बुजुर्ग का हाथ मोड़ने का भी आरोप है.

पानी की शिकायत पर बदसलूकी!

कुछ दिन पहले दिनेश मोहनिया पर संगम विहार में महिलाओं से बदसलूकी का आरोप लगा था. आरोप है कि उनके समर्थकों ने पानी की किल्लत की शिकायत लेकर उनके दफ्तर पहुंची महिलाओं को धक्का देकर कार्यालय से बाहर निकाल दिया.

पढ़ें: महिलाओं से बदसूकी के मामले में आप विधायक दिनेश मोहनिया गिरफ्तार

इसके बाद मोहनिया के खिलाफ इन महिलाओं ने केस दर्ज कराया. अब दोनों ही आरोपों में दिनेश मोहनिया के खिलाफ पुलिस में केस दर्ज है. दिनेश मोहनिया दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष भी हैं.

दिनेश मोहनिया वही शख्स हैं, जिन्होंने तीन साल पहले बीजेपी के एक नेता पर आम अादमी पार्टी के विधायकों की खरीद-फरोख्त का गंभीर आरोप लगाते हुए स्टिंग ऑपरेशन किया था.

First published: 27 June 2016, 16:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी