Home » इंडिया » Delhi: Supreme Court rapped LG for not attending a crucial meeting on the issue and observed
 

दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने एलजी को लगाई कड़ी फटकार, बोला- खुद को सुपरमैन समझते हैं?

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 July 2018, 14:46 IST

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली के एलजी अनिल बैजल को कड़ी फटकार लगाई है. सुप्रीम कोर्ट ने यह फटकार कूड़ा निस्तारण मामले को लेकर लगाई है. कोर्ट ने कहा कि कूड़ा निस्तारण के मामले को लेकर एलजी ऑफिस ने सही कदम नहीं उठाया.

कोर्ट ने कहा कि दिल्ली में कचरे को मैनेज करने के लिए पर्याप्त प्रभावी उपाय नहीं किए गए. कोर्ट ने कहा कि आप कहते हैं कि मैं सुपरमैन हूं लेकिन करते कुछ नहीं हैं. एलजी अनिल बैजल ने कोर्ट से कहा था कि कूड़ा निस्‍तारण की जिम्‍मेदारी नगर निगम की है और वह उसकी निगरानी के इंचार्ज हैं.

 

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान एमिकस क्‍यूरी कॉलिन गोंजाल्‍वेस ने कहा कि बैठकों में एलजी कार्यालय से कोई भी नहीं आया. यह जानकर जजों ने एलजी को कहा, "आप कहते हैं 'मेरे पास पावर है, मैं सुपरमैंन हूं.' लेकिन आप कुछ करते नहीं."

पढ़ें-मुख्य सचिव थप्पड़कांड: पुलिस ने खंगाले अपने ही मुख्यमंत्री के कॉल डिटेल्स, चार्जशीट तैयार

यही नहीं शीर्ष अदालत ने एलजी से कूड़ा बटोरने वालों को आइडेंडिटी कार्ड मुहैया कराने और पूरे मामले पर दोपहर 2 बजे तक अपडेट करने का आदेश भी दिया है. बता दें कि मंगलवार को कूड़ा निस्तारण मामले पर सुनवाई के दौरान अदालत ने पूछा था कि दिल्‍ली में कूड़े के पहाड़ के लिए कौन जिम्‍मेदार है? वे लोग जो उप-राज्यपाल के प्रति जवाबदेह हैं, या वे लोग जो मुख्यमंत्री के प्रति जवाबदेह हैं?

न्यायमूर्ति मदन बी. लोकुर और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की पीठ ने केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार से हलफनामा देने के लिए कहा था कि दिल्ली में कूड़े की सफाई के लिए किसे जिम्मेदार ठहराया जाए और कचरा प्रबंधन किसके अधिकार क्षेत्र में आता है.

First published: 12 July 2018, 14:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी