Home » इंडिया » Delhi violence: judge who reprimanded Delhi Police transferred, know the whole case
 

Delhi violence: दिल्ली पुलिस को फटकार लगाने वाले दिल्ली हाईकोर्ट के जज का तबादला

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 February 2020, 8:43 IST

Delhi violence: राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा के मामले में सुनवाई कर रहे दिल्ली हाईकोर्ट के जस्टिस एस मुरलीधर के तबादले का नोटिफिकेशन बुधवार को जारी कर दिया गया है. जस्टिस मुरलीधर का तबादला पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट किया गया है. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट की कॉलिजियम ने 12 फरवरी को उनके तबादले का सुझाव दिया था.

मंगलवार को जस्टिस मुरलीधर की अगुवाई वाली एक बेंच ने दिल्ली हिंसा के मामले में दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली पुलिस को कड़ी फटकार लगाई थी. मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एस ए बोबडे के बीच विचार-विमर्श के बाद यह नोटिफिकेशन जारी किया गया. कांग्रेस पार्टी ने जस्टिस मुरलीधर के तबादले पर सवाल उठाया है.


कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने इस पर सवाल उठाया, उन्होंने ट्वीट किया "त्वरित न्याय! जस्टिस एस मुरलीधर के अगुवाई वाली बेंच ने जैसे ही बीजेपी नेताओं और सरकार को दिल्ली में हो रही हिंसा के लिए ज़िम्मेदार ठहराया, वैसे ही रातभर में दिल्ली हाईकोर्ट से उनका तबादला कर दिया गया. काश, दंगाइयों से भी इतनी ही तेजी से निपटा जाता."

इससे पहले जस्टिस एस. मुरलीधर के बीते हफ़्ते हुए तबादले को लेकर वकीलों ने विरोध किया था. दिल्ली हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने इसका विरोध करते हुए सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम के के सामने नाराज़गी ज़ाहिर की थी. मुरलीधर दिल्ली हाईकोर्ट में सीनियर जजों में तीसरे नंबर पर हैं. बार एसोसिएशन क आरोप है कि कॉलेजियम ने बिना कारण उनका तबादला किया.

दिल्ली हिंसा को लेकर दायर याचिका की सुनवाई जस्टिस एस मुरलीधर और तलवंत सिंह की बेंच कर रही है. मंगलवार को सुनवाई के दौरान स्थिति को अप्रिय बताते हुए न्यायमूर्ति मुरलीधर ने सॉलिसिटर जनरल (SG) तुषार मेहता को बीजेपी नेता की वीडियो क्लिप की जांच करने को कहा.

अदालत ने भाजपा नेताओं अनुराग ठाकुर, परवेश साहिब सिंह और कपिल मिश्रा द्वारा कथित घृणा फैलाने वाले भाषणों के खिलाफ एसजीएस को पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक से सलाह करने के लिए भी कहा गया. अदालत ने कहा “हमें यकीन है कि पुलिस आयुक्त के कार्यालय में एक टीवी है. कृपया उन्हें इस क्लिप को देखने के लिए कहें''.

Delhi violence: अदालत में जज ने दिल्ली पुलिस से पूछा- आपने कपिल मिश्रा का वीडियो देखा है

First published: 27 February 2020, 8:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी