Home » इंडिया » Delhi violence: Who is Tahir Hussain, accused of murder by IB officer Ankit's family
 

दिल्ली हिंसा: कौन है ताहिर हुसैन, IB अधिकारी अंकित की हत्या मामले में लगे हैं गंभीर आरोप

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 February 2020, 11:10 IST

Delhi Violence : दिल्ली में नागरिकता कानून (CAA) पर चल रहे हंगामे के बीच खुफिया ब्यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा (Ankit Sharma) की मौत के मामले में आम आदमी पार्टी (आप) के नेता ताहिर हुसैन की कथित भूमिका को लेकर विवाद छिड़ गया है. दिल्ली अंकित शर्मा का शव जाफराबाद में उनके घर के पास एक नाले में पाया गया था. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार परिवार का कहना है कि उनपर भीड़ द्वारा हमला किया गया था और मंगलवार को अंकित की घर जाते समय उनकी पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.

बुधवार को शव मिलने के बाद अंकित के पिता रविंद्र शर्मा ने आरोप लगाया कि ताहिर हुसैन के समर्थकों ने उनके बेटे की हत्या कर दी थी. उन्होंने आगे आरोप लगाया कि पिटने के बाद उनके बेटे को गोली मार दी गई. अंकित के शव को शव परीक्षण के लिए भेज दिया गया है. एक टीवी चैनल के अनुसार अंकित के भाई ने कहा ''मेरे भाई अंकित करीब 4.30 बजे ड्यूटी से आ रहे थे.


भीड़ ने आईबी में सर्विस करने वाले मेरे भाई को गली के बाहर पकड़ लिया. भीड़ उन्हें खींच कर ताहिर हुसैन निगम पार्षद है के मकान में ने गई. भीड़ यहां से चार लड़कों को ले गई. अभी तक तीन लोगों के शव मिल चुके हैं. ये मुझे पता नहीं कि वो इसको सपोर्ट कर रहे है या नहीं.'' मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शाहदरा, नेहरू नगर, चांदबाग के इलाके में ताहिर की पहचान रसूखदार व्यक्ति के रूप में है. 2017 में वो निर्वाचन क्षेत्र 059-E-Nehru Vihar ( East Delhi) से आप के टिकट पर वह पार्षद का चुनाव जीता था.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार अंकित शर्मा के पड़ोसियों ने यह भी आरोप लगाया कि हुसैन की पांच मंजिला बिल्डिंग की छत से पत्थर और पेट्रोल बम फेंके गए थे. रिपोर्ट के अनुसार एक व्यक्ति ने कहा कि हुसैन जो नगर पार्षद है, छत पर कुछ अन्य लोगों के साथ थे, ये लोग पत्थरबाजी में शामिल थे. हालांकि AAP नेता ने एक वीडियो जारी कर अपनी बेगुनाही का दावा किया है.

वीडियो में कहा गया है "मेरे बारे में खबर झूठी है. कपिल मिश्रा के अभद्र भाषा के बाद से दिल्ली में हालात बिगड़ गए हैं. पत्थरबाजी और हिंसा हो रही है. कल से एक दिन पहले भी उनके निवास स्थान पर ऐसा ही हुआ था." वीडियो में हुसैन ने कहा है कि भीड़ उनके घर में घुसकर हमले कर रही थी.

Delhi violence: दिल्ली पुलिस को फटकार लगाने वाले दिल्ली हाईकोर्ट के जज का तबादला

First published: 27 February 2020, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी