Home » इंडिया » Modi Govt's Sting Operation in 500 different branches of Private and Govt Banks to identify misdeed
 

पीएम मोदी ने बैंकों में कराए 500 स्टिंग, मार्च के बाद गिर सकती है गाज !

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 December 2016, 12:00 IST
(सांकेतिक तस्वीर)

नोटबंदी के बाद लोगों को कैश के लिए खासी दिक्कत आ रही है. वहीं देश के अलग-अलग इलाकों में करोड़ों की नई करेंसी लगातार बरामद हो रही है. इस बीच सूत्रों के हवाले से खबर है कि मोदी सरकार ने नोटबंदी के बाद गड़बड़ियों को पकड़ने के लिए बैंकों की 500 शाखाओं में स्टिंग ऑपरेशन कराया है.

सूत्रों के हवाले से खबर है कि एटीएम और बैंकों के कैश काउंटर पर बढ़ती समस्याओं को देखते हुए प्रधानमंत्री के निर्देश पर तकरीबन 500 सरकारी और प्राइवेट बैंकों का स्टिंग ऑपरेशन हुआ है.

कई बैंकों में गड़बड़ी की शिकायतें मिली हैं. खासकर देश की राजधानी दिल्ली में एक्सिस बैंक की दो ब्रांच में (चांदनी चौक और कश्मीरी गेट) बड़ी गड़बड़ी की बात सामने आई है.

आयकर विभाग के छापे में चांदनी चौक शाखा में 44 फर्जी खातों में जमा 100 करोड़ का खुलासा हुआ था. नोटबंदी के बाद से इस ब्रांच में 450 करोड़ रुपये जमा हो चुके हैं.  

400 बैंकों की सीडी वित्त मंत्रालय के पास!

सूत्रों मुताबिक तकरीब 400 ब्रांचों के स्टिंग ऑपरेशन की सीडी वित्त मंत्रालय के पास पहुंच चुकी है. बताया जा रहा है कि अभी बैंकों के कामकाज पर असर पड़ने की संभावना को देखते हुए कार्रवाई नहीं की जाएगी, लेकिन मार्च के बाद गड़बड़ी में शामिल बैंकों के कर्मचारियों पर गाज गिर सकती है.

बताया जा रहा है कि स्टिंग में बैंकों में लाइन के दौरान जनता को दरकिनार करते हुए कुछ खास लोगों के पैसे जमा करने और बदलने की संदिग्ध गतिविधि रिकॉर्ड की गई है. 

रेवेन्यू इंटेलीजेंस के रडार पर कई बैंक!

वित्त मंत्रालय के पास पहुंची सीडी में बैंक अफसरों के साथ ही दलालों की मिलीभगत से नोट बदले जाने की बात सामने आ रही है. प्रभावशाली लोगों और बैंक कर्मचारियों की मिलीभगत से कैसे बैंक में गड़बड़ी को अंजाम दिया जा रहा है, इसका भी सबूत स्टिंग में बताया जा रहा है.

फिलहाल गड़बड़ी की तफ्तीश हो रही है. कैश की हालत में थोड़ा सुधार होने के बाद भ्रष्ट बैंक कर्मियों और अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. रेवेन्यू इंटेलीजेंस के सूत्रों के मुताबिक नोटबंदी के बाद अगर बैंकों से मुस्तैदी से कर्तव्य का निर्वहन किया होता, तो लोगों को इतनी मुश्किल नहीं उठानी पड़ती.

तमिलनाडु में सबसे ज्यादा कैश जब्त

नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा कैश तमिलनाडु में बरामद हुए हैं. यहां एक मनी एक्सचेंजर शेखर रेड्डी के आठ ठिकानों पर आयकर छापे में 90 करोड़ से ज्यादा कैश बरामद हुआ था, इसमें काफी करेंसी दो हजार के नए नोट में थी.

इसके अलावा वेल्लोर में एक कार में 2000 के नए नोट वाले 24 करोड़ कैश मिले हैं. इन सब मामलों में बैंक कर्मचारियों की मिलीभगत का शक है. 8 नवंबर को नोटबंदी बाद से ज्यादातर बैंकों में कैश की किल्लत है. इस बीच खबर है कि नए नोट छापने के लिए केंद्र सरकार 20 हजार टन करेंसी पेपर का आयात करने की तैयारी कर रही है.

First published: 12 December 2016, 12:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी