Home » इंडिया » Devendra Fadnavis and Ajit Pawar seen together, may create uproar in Maharashtra politics
 

फिर साथ दिखे देवेंद्र फडणवीस-अजित पवार, महाराष्ट्र की राजनीति में मच सकता है उथल-पुथल

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 August 2020, 19:39 IST

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र की राजनीति में एक बार फिर उथल-पुथल मच सकता है. दरअसल, राज्य में एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और अजीत पवार एक साथ दिखाई दिए हैं. पुणे में एक कार्यक्रम के दौरान दोनो एक साथ दिखाई दिए हैं. अजीत पवार वर्तमान में राज्य के डिप्टी सीएम हैं.

इन दोनों नेताओं के एक बार फिर साथ दिखने के बाद राजनीतिक चर्चाएं गर्म हो गई हैं. कार्यक्रम के दौरान देवेंद्र फडणवीस ने पुणे में डिप्टी सीएम अजित पवार द्वारा कराए गए कामों की जमकर तारीफ की. हालांकि इस दौरान उन्होंने शिवसेना की जमकर खिंचाई की. 

वहीं एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर अजित पवार के बेटे पार्थ पवार ने कई बार सीबीआई जांच की मांग की है. दूसरी तरफ  शिवसेना सरकार जांच को लेकर मुंबई पुलिस पर ज्यादा भरोसा करती रही है. यहां तक कि कई बार बोलने पर पार्थ पवार को शरद पवार से डांट भी खानी पड़ी थी. हालांकि बाद में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई जांच को सही ठहराया.

UGC Exam 2020 : सुप्रीम कोर्ट का आदेश- बिना परीक्षा के प्रमोट नहीं किये जा सकते फाइनल ईयर के छात्र

बता दें कि पिछले साल 23 नवंबर को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के बाद देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार ने एक साथ शपथ लेकर राज्य के राजनीतिक गलियारों में कोहराम मचा दिया था. राज्य के विधानसभा चुनाव में NDA गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिला था. लेकिन शिवसेना ने खुद को बीजेपी से अलग कर लिया था.

इसके बाद सरकार बनाने को लेकर शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस के साथ गठबंधन कर सरकार बनाने की कोशिश की थी और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के यहां दावे पेश किए थे. इसी बीच एकाएक बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस तथा एनसीपी नेता अजित पवार ने सीएम और डिप्टी सीएम पद की शपथ लेकर राज्य की राजनीति में तूफान ला दिया था.

हालांकि दो दिन के भीतर ही शरद पवार के हस्तक्षेप के बाद अजित पवार एक एनसीपी में लौट आए थे और शिवसेना की अगुआई वाली सरकार में डिप्टी सीएम बने थे. लेकिन सरकार बनने के 10 महीने बाद फिर से इन दोनों नेताओं के एक साथ देखे जाने के बाद राज्य की राजनीति में कयासों का दौर चल पड़ा है.

NEET-JEE परीक्षा के खिलाफ राहुल गांधी ने शुरू किया ऑनलाइन कैंपेन, बोले- सरकार छात्रों पर डाल रही है दबाव 

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे को देना पड़ा इस्तीफा, देश में सबसे लंबे समय तक रहे पीएम

First published: 28 August 2020, 19:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी