Home » इंडिया » Devendra fadnavis: In some cases Rakesh mariya taking more interest so i order to transfer him
 

देवेंद्र फड़नवीस: कुछ मामलों में ज्यादा दिलचस्पी ले रहे थे राकेश मारिया, इसलिए हटाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:46 IST
(पीटीआई)

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा है कि मुंबई के तत्कालीन पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया का उन्होंने इसलिए ट्रांसफर कर दिया, क्योंकि वो कुछ मामलों में ज्यादा दिलचस्पी ले रहे थे.

उन्होंने कहा कि शीना बोरा हत्या मामले में ‘बहुत अधिक रुचि’ लेने के कारण पैदा हुए ‘विवादों से बचने’ के लिए मारिया को समय से थोड़ा पहले ‘प्रमोशन’ देकर ट्रांसफर कर दिया गया था.

फडणवीस ने इस मामले में समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, "उस समय दो-तीन विवाद पैदा हुए थे. एक ललित मोदी के बारे में था जिसमें मारिया ने एक स्पष्टीकरण दिया और हमने उसे स्वीकार कर लिया. दूसरा जब वह शीना बोरा जांच में काफी रुचि ले रहे थे, सवाल उठे कि एक पुलिस आयुक्त इतना रुचि क्यों ले रहा है. हालांकि मारिया को आपराधिक जांच में अधिक रुचि लेने के लिए जाना जाता था. इसलिए इसकी काफी संभावना है कि वह अपने इस स्वभाव के कारण रुचि ले रहे हों."

उन्होंने कहा, "मारिया का 'ट्रांसफर' नहीं किया गया बल्कि उन्हें प्रमोशन दिया गया है और एक पुलिस आयुक्त को तय समय से कुछ सप्ताह पहले प्रमोशन देना कोई असाधारण बात नहीं है."

उन्होंने कहा, "यदि मैं यह कहूं कि मुझे पता था कि शीना बोरा जांच सही नहीं चल रही थी और इसीलिए मैंने उनका स्थानांतरण किया, तो यह सही नहीं होगा. लेकिन इस मामले में जब विवाद होने शुरू हुए तो मैंने सोचा कि मैं इसे खत्म करने के लिए मारिया को थोड़ा पहले प्रमोशन दे देता हूं."

फड़नवीस ने कहा कि अप्रत्याशित रूप से उनकी प्रमोशन के बाद एक ताजा विवाद उत्पन्न हो गया जिसने मारिया को जांच की ‘निगरानी’ करने की इजाजत दे दी.

सीएम फणनवीस ने कहा, "मेरा मानना है कि इस मामले के अलावा मारिया का रिकॉर्ड शानदार था. हमें उन्हें संदेह का लाभ देना चाहिए, लेकिन यह भी सही है कि मामला सीबीआई को स्थानांतरित होने तक मुझे मारिया के द्वारा यही बताया जाता था कि शीना बोरा की हत्या में पीटर का हाथ नहीं है."

First published: 2 November 2016, 3:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी