Home » इंडिया » Dhanush Artillery Guns joins Indian Army referred as desi Bofors, Bad news for Pakistan
 

अब पाकिस्तान की खैर नहीं ! सेना में शामिल हुई देसी बोफोर्स के आगे टिक नहीं पाएगा हिंदुस्तान का दुश्मन

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 March 2019, 12:18 IST

अब पाकिस्तान की खैर नहीं. भारतीय सेना में धनुष हॉविट्जर गन शामिल हुई हैं. इसका निर्माण बोफोर्स की तर्ज पर किया गया है. इसके सामने अब दुश्मन देश खड़ा भी नहीं हो पाएगा. भारतीय सेना में आज औपचारिक तौर पर 4 देसी बोफोर्स को शामिल किया जाएगा.

ये देसी बोफोर्स पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह की जंग की स्थिति में दुश्मनों को मुहंतोड़ जवाब देंगे. बोफोर्स को 1980 के दशक में भारतीय सेना में शामिल किया गया था. देसी बोफोर्स दुश्मनों की किसी भी तोप का मुकाबला करने की क्षमता रखता है.

भारत ने साल 2015 में इसका निर्माण शुरू किया था. इस स्वदेशी तोप धनुष को बोफोर्स से भी बेहतर बताया जा रहा है. जबलपुर ऑर्डनेंस फैक्ट्री के एक कार्यक्रम में इसे सेना में शामिल किया जाएगा. 

इस देसी बोफोर्स की खास बात यह है कि यह दिन और रात दोनों समय दुश्मनों के छक्के छुड़ा सकती है. यह दिन और रात दोनों समय फायर करने में सक्षम है. पहाड़ी इलाकों में भी इसकी आसानी से तैनाती की जा सकती है.

आडवाणी के बाद BJP ने काटा जोशी का टिकट तो छलका दर्द, बोले- पार्टी ने मुझे..

Air Strike: महीने भर बाद भी PM मोदी के खौफ से नहीं उबरा पाकिस्तान, डर के मारे किया ये काम

First published: 26 March 2019, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी