Home » इंडिया » Dhingra commission: Robert vadra made rs 50-crore from a land deal in haryana in 2008
 

ढींगरा कमीशन ने वाड्रा पर गिराई गाज, बताया अवैध तरीके से कमाया 50.50 करोड़ का मुनाफा

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2017, 11:11 IST
robert vadra

कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के दामाद और प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा से संबंधित हरियाणा में जमीन गोटाले के मामले की जांच के लिए बनाई गई ढींगरा कमिशन की रिपोर्ट में बताया गया है कि साल 2008 में वाड्रा ने हरियाणा में एक लैंड डील से गैरकानूनी रूप से 50.50 करोड़ रुपये का मुनाफा बनाया था, जबकि उस लैंड डील में उनका एक पैसा भी खर्च नहीं हुआ था.

वहीं जस्टिस एस एन ढींगरा कमिशन के इस नतीजे पर प्रियंका गांधी ने कड़ा प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कहा कि इस पूरे मामले में उनके पति रॉबर्ट वाड्रा या उनकी कंपनी स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी का कोई लेना-देना नहीं है.

मामले की जानकारी रखने वाले लोगों ने कमिशन के हवाले से कहा कि वाड्रा की कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए सांठगांठ की गई थी. आयोग ने वाड्रा और उनकी कंपनियों की ओर से खरीदी गई प्रॉपर्टीज की जांच करने को कहा है.

कमिशन की रिपोर्ट पर वाड्रा और स्काईलाइट के वकील सुमन खेतान ने कहा कि वाड्रा और स्काईलाइट ने कोई गलत हरकत नहीं की थी और किसी कानून का उल्लंघन नहीं किया था. उन्होंने यह भी कहा कि जमीन पैसा चुकाकर खरीदी गई थी और इनकम टैक्स का पेमेंट भी किया गया था.

गौरतलब है कि ढींगरा कमीशन का गठन मई 2015 में हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने किया था. आयोग को गुड़गांव के चार गांवों में लैंड यूज बदलने के लिए लाइसेंस दिए जाने की जांच का जिम्मा दिया गया था.

इसमें वाड्रा की कंपनी स्काई लाइट को दिए गए लाइसेंस की जांच भी शामिल थी. आयोग ने अपनी रिपोर्ट पिछले साल 31 अगस्त को दी थी. प्रदेश सरकार ने उस रिपोर्ट को सुप्रीम कोर्ट के पास एक सील्ड कवर में पिछले सप्ताह भेजा था. जस्टिस ए के गोयल और जस्टिस यू यू ललित की बेंच ने लैंड डील्स से जुड़ी एक लंबित याचिका के सिलसिले में रिपोर्ट मांगी थी.

First published: 28 April 2017, 9:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी