Home » इंडिया » digvijay singh controversial remark on rss
 

दिग्विजय सिंह : पंजीकृत संस्था नहीं है आरएसएस

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 July 2016, 13:17 IST
(एजेंसी)

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और महासचिव दिग्विजय सिंह ने शनिवार को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के मसले में एक बड़ा बयान देते हुए कहा कि संघ पंजीकृत संस्था नहीं है.

संघ पर आरोप लगाते हुए सिंह ने कहा कि उसे मिलने वाले वार्षिक धन, और विशेष कर ‘गुरु पूर्णिमा' पर मिलने वाले धन की जानकारी सार्वजनिक करनी चाहिए. जिससे लोगों को पता चल सके कि संघ के कोष में हर साल कितना धन जमा होता है.

दिग्विजय सिंह ने कहा, "एक संगठन जो कहीं भी पंजीकृत नहीं है, उस पर प्रतिबंध का कोई सवाल ही नहीं उठता, आपने बार-बार संघ को प्रतिबंधित करने की मांग की है, आपको पता है आरएसएस पंजीकृत संगठन है ही नहीं."

उन्होंने कहा, "संघ गुरु पूर्णिमा के मौके पर बड़ी धनराशि एकत्र करता है, जिसका कोई लेखा-जोखा नहीं होता. गुरु दक्षिणा के रूप में आरएसएस को कितना धन मिलता है? उसका क्या कभी कोई हिसाब लिया जाता है?"

सिंह ने कहा, "क्योंकि यह संगठन गैर-पंजीकृत है, इसलिए किसी अधिनियम के तहत नहीं आता है. यह धन कहां जाता है? इसका खुलासा आरएसएस को करना चाहिए."

दिग्विजय सिंह ने गुजरात के ऊना में दलितों की पिटाई के संदर्भ में प्रतिक्रिया देते हुए दावा किया कि हमले के लिए जिम्मेदार संगठन भी पंजीकृत नहीं है और उसके सदस्य ‘स्थानीय पुलिस की शह से धन उगाहने वाले गुंडे हैं.’

उन्होंने चिंता जाहिर करते हुए कहा, "आप ऐसे संगठन को कैसे प्रतिबंधित कर सकते हैं? पंजीकृत संगठन कहां हैं? क्या उन्हें कानून के तहत नैतिक पुलिसिंग का अधिकार दिया गया है? क्या उनके पास जिसे मन में आए पीटने का अधिकार है?"

First published: 24 July 2016, 13:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी