Home » इंडिया » Diu: First Indian Union Territory to run on 100 percent solar power
 

भारत का पहला 'राज्य' जहां 100 फीसदी सौर ऊर्जा का होता है इस्तेमाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 March 2018, 13:28 IST
फाइल फोटो

मशहूर पर्यटन स्थल दीव (Diu) अब भारत का पहला और इकलौता ऐसा केंद्र शासित राज्य हो गया है जो सौर ऊर्जा से जगमग है. दीव अब 100 फीसदी सौर ऊर्जा से चलने में सक्षम है और राज्य के 50 एकड़ क्षेत्रफल में सोलर प्लांट्स लगाए गए हैं. 

रीन्यूवेबल एनर्जी की अहमियत समझते हुए दीव ने कुछ साल पहले सौर ऊर्जा उत्पादन किए जाने के बारे में सोचा और फिर इस पर काम शुरू कर दिया. इससे पहले यह केंद्र शासित राज्य बिजली के लिए केवल गुजरात सरकार की पश्चिम गुजरात विज कंपनी लिमिटेड पर ही निर्भर था.

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में दमन एवं दीव बिजली विभाग के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर मिलिंद इंग्ले ने कहा, "दीव में बिजली की पीक (सर्वाधिक) मांग 7 मेगावॉट तक जाती है और हम रोजाना सौर ऊर्जा से 10.5 मेगावॉट बिजली का उत्पादन कर रहे हैं." यह खपत की मांग से कहीं ज्यादा है.

इंग्ले कहते हैं कि सौर ऊर्जा की वजह से स्थानीय नागरिकों को भी काफी राहत मिली है क्योंकि इससे उनके मासिक बिजली के बिल में करीब 12 फीसदी तक की कमी आ गई है. पहले 0-50 यूनिट के लिए लोगों को 1.20 रुपये प्रति यूनिट और 50-100 यूनिट्स के लिए 1.50 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से भुगतान करना पड़ता था.

लेकिन जब से सौर ऊर्जा सयंत्र ने बिजली उत्पादन शुरू किया, गोवा और यूनियन टेरेटरीज के ज्वाइंट इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन ने 0-50 यूनिट का स्लैब हटा दिया और 1-100 यूनिट तक के लिए केवल 1.01 रुपये प्रति यूनिट की दर बना दी.

दीव का कुल क्षेत्रफल 42 वर्गकिलोमीटर है और इस केंद्र शासित प्रदेश की जनसंख्या करीब 56,000 है. हर साल यूरोपीय देशों समेत दुनिया भर से लाखों सैलानी यहां घूमने आते हैं. 

First published: 9 March 2018, 13:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी