Home » इंडिया » DMK elects party treasurer #Stalin as its Working President
 

एम के स्टालिन बने DMK के कार्यकारी अध्यक्ष

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 January 2017, 16:26 IST
(पीटीआई)

द्रमुक ने अपने कोषाध्यक्ष एम. के. स्टालिन को पदोन्नत कर उन्हें पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया है. स्टालिन को ऐसे वक्त पर यह पद दिया गया है जब पार्टी सुप्रीमो एम. करुणानिधि बीमारी के बाद स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं. 

द्रमुक की आम परिषद की बैठक में नियमों में जरूरी संशोधन कर 63 वर्षीय स्टालिन को पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया. 

स्टालिन को कार्यकारी अध्यक्ष बनाने संबंधी प्रस्ताव का समर्थन करने के बाद द्रमुक के वरिष्ठ नेता एवं महासचिव के. अनाबझागन ने बैठक में बताया कि कोषाध्यक्ष के अपने मौजूदा पद के साथ-साथ स्टालिन अब द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष भी होंगे. द्रमुक के 60 वर्ष से भी लंबे इतिहास में पहली बार ऐसे पद का सृजन किया गया है.

अनाबझागन ने कहा कि कार्यकारी अध्यक्ष के पास पार्टी अध्यक्ष के सभी अधिकार होंगे. हालांकि पदक्रम में अध्यक्ष अभी भी शीर्ष पद रहेगा. कार्यकारी अध्यक्ष के पद को फिलहाल सबसे महत्वपूर्ण पद के रूप में देखा जा रहा है जिसे करूणाानिधि के स्वास्थ्य को देखते हुए सृजित किया गया है. हाल ही में द्रमुक सुप्रीमो को बीमार होने के कारण दो बार अस्पताल में भर्ती होना पड़ा था.

पार्टी के संगठन सचिव एवं राज्यसभा सदस्य आर. एस. बराती ने स्टालिन को कार्यकारी अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव रखा और पार्टी के प्रधान सचिव दुरई मुरूगन ने भी इसका समर्थन किया. 

अपने संबोधन के दौरान स्टालिन अपने 92 वर्षीय पिता और पार्टी प्रमुख करूणानिधि के स्वास्थ्य के बारे में बात करते हुए भावुक हो गए. उन्होंने कहा कि अतीत में पार्टी के विभिन्न पदों को संभालने के दौरान उन्हें बहुत प्रसन्नता हुई थी, लेकिन इस बार ऐसा महसूस नहीं हो रहा है, क्योंकि उनके पिता बीमार हैं. स्टालिन ने कहा कि इस पदोन्नति को वह सिर्फ जिम्मेदारी के रूप में देख रहे हैं और उनकी भूमिका पार्टी अध्यक्ष की सहायता करने की होगी. 

First published: 4 January 2017, 16:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी