Home » इंडिया » Donald Trump false claim on Kashmir, The Washington Post fact checker database
 

अमेरिकी मीडिया ने खोली पोल, झूठे हैं डोनाल्ड ट्रंप, राष्ट्रपति बनने के बाद बोल चुके हैं 10,796 बार झूठ

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 July 2019, 12:22 IST

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कथित तौर पर झूठा दावा किया की भारत ने कश्मीर मसले पर मध्यस्थता करने की बात कही है. ट्रंप के इस दावे पर भारत भड़क गया है. भारत ने डोनाल्ड ट्रंप के दावे के झूठा करार दिया है. यह कोई पहली बार नहीं है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर झूठे होने का आरोप लग रहा है.

आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि अमेरिकी राष्ट्रपति बात-बात पर झूठ बोलते रहते हैं. अमेरिका में वह झूठा के नाम से बदनाम हैं. खुद अमेरिकी मीडिया ने ट्रंप के झूठे होने की कई बातें सार्वजनिक की हैं. आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि राष्ट्रपति बनने के बाद से अब तक 10,796 बार झूठ बोल चुके हैं.

अमेरिकी अखबार वॉशिंगटन पोस्ट के फैक्ट चेकर्स डेटाबेस ने बताया कि अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद से अब तक वह 10 हजार 796 बार झूठ बोल चुके हैं. सिर्फ यही नहीं राष्ट्रपति बनने के बाद से ट्रंप औसतन रोजाना 12 बार झूठ बोलते हैं.

फैक्ट चेकर्स डेटाबेस को अमेरिका के राष्ट्रपति का कोई बयान संदिग्ध लगा, तो उसकी पड़ताल की गई. इसमें ट्रंप के ज्यादातर बयान झूठे पाए गए. ट्रंप ने मैक्सिको की दीवार बनाने के फंड की मंजूरी के लिए भी कई तरह के झूठे दावे किए. ट्रंप ने कारोबार और अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूस के दखल के मुद्दे पर भी कई बार झूठ बोला था.

फैक्ट चेकर्स डेटाबेस के अनुसार, अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपने झूठे दावे को कई बार दोहराया भी है. भारत के अनुसार, कश्मीर मुद्दे पर भी वह पीएम मोदी को लेकर सफेद झूठ बोल रहे हैं. विदेश मंत्रालय ने साफ-साफ कहा कि भारत ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से ऐसी कोई अपील कभी नहीं की.

इमरान खान के सामने कश्मीर मामले पर ट्रंप ने किया झूठा दावा ! भड़का भारत तो व्हाइट हाउस को देनी पड़ी सफाई

Chandrayaan 2 Launch: मिशन की सफलता के लिए बस के टायर पर मूत्र विसर्जन करते हैं अंतरिक्ष यात्री

First published: 23 July 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी