Home » इंडिया » Donald Trump saw Taj Mahal, 5 places in Agra where every tourist would like to visit
 

डोनाल्ड ट्रंप ने देखा ताज, आगरा के इन 5 जगहों पर घूमे बिना अधूरा है ताजमहल का दीदार

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 February 2020, 18:17 IST

Trump at Taj Mahal: अमेरिका के राष्ट्रपति(American President) डोनाल्ड ट्रंप(Donald Trump) अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप(Melania Trump) के साथ दुनिया के सात आश्चर्यों में शामिल ताजमहल(Taj Mahal) का दीदार करने आगरा(Agra) पहुंचे. ट्रंप के साथ उनकी बेटी इवांका ट्रंप(Ivanka Trump) भी ताज की खूबसूरती का दीदार करने पहुंचीं.

मुगलकालीन विरासतों वाले शहर आगरा के साथ ताज महल का नाम सबसे पहले जोड़ा जाता है. ट्रंप से पहले हाल ही में आगरा पहुंचने वाले नामी व्यक्ति अमेजॉन के मालिक जेफ बेजॉस थे. वह अपनी गर्लफ्रेंड के साथ ताज महल का दीदार करने गए थे. ताज के सामने ली गई उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया में काफी वायरल हुई थीं.

ताजमहल दुनिया के सात आश्चर्यों में शुमार है. इसकी खूबसूरती को देखने के लिए दुनिया भर से सैलानी आगरा पहुंचते हैं. आगरा दुनियाभर में भले ही ताज महल के लिए मशहूर है लेकिन इसके अलावा भी शहर में कुछ ऐसी जगहें और इमारतें हैं जो यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज (UNESCO World Heritage) में शामिल हैं.

आगरा का किला

आगरा का किला जिले की दूसरी सबसे मशहूर जगह है. यह ताजमहल से करीब ढाई किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. ये किला भी यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साइट है. आगरा का किला लोधी राजवंश से लेकर ब्रिटिश अंपायर तक के कब्जे में रहा है. दिल्ली के नजदीक होने की वजह से किले की रणनीतिक स्थिति काफी महत्वपूर्ण रही थी. आगरा आने वाले सैलानियों को यह किला जरूर देखने जाना चाहिए.

अकबर का मकबरा

अकबर का मकबरा आगरा में ऐसी जगहों में शामिल है जहां बड़ी संख्या में सैलानी पहुंचते हैं. आगरा के सिकंदरा में स्थित इस मकबरे को मुगल बादशाह जहांगीर ने तैयार करवाया था. इस जगह ही अकबर अपने आखिरी समय में रहे थे.

फतेहपुर सिकरी

आगरा आने वाले सैलानियों को फतेहपुर सिकरी जरूर जाना चाहिए. यह आगरा जिले का एक ब्लॉक है. फतेहपुर सीकरी में विश्व प्रसिद्ध बुलंद दरवाजा स्थित है. इसके अलावा जामा मस्जिद, सलीम चिश्ती की मजार यहां आने वाले सैलानियों के लिए उत्सुकता का केंद्र होते हैं.

कई राजवंशों के निशान

आगरा में लोधी, मुगल, मराठों जैसे कई राजवंशों का शासन रहा है. इस कारण शहर में कई संस्कृतियों की झलक एक साथ देखने को मिलती है. इस शहर पर ब्रिटिश शासन का भी प्रभाव रहा है. यहां एक ऐसा चर्च है जिसे अकबर का चर्च के नाम से जाना जाता है. अकबर ने अपने शासनकाल के दौरान गोवा से एक ईसाई धर्मगुरु को बुलवाकर यह चर्च बनवाया था. यह एक रोमन कैथोलिक चर्च है.

साल भर पुरानी ड्रेस पहनकर भारत आईं इवांका ट्रंप, कीमत इतनी सस्ती कि आप कहेंंगे बस

डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ने PM मोदी की फोटो के साथ लिखा कुछ ऐसा, ट्वीट हो गया है वायरल

First published: 24 February 2020, 18:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी