Home » इंडिया » dr sunilam mla indian railway attempt to kill attack bhopal
 

ट्रेन के टॉयलेट में छुपकर नेता ने बचाई अपनी जान, ट्विटर पर मांगी मदद, नहीं मिला सहयोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 July 2019, 17:10 IST

सरकार भले ही अपने रेल य़ात्रियों के सुरक्षा के लिए कई दावे करती नजर आ रही है, लेकिन सच्चाई इसके बिल्कुल उलट है. दरअसल, गोंडवाना एक्सप्रेस में मध्य प्रदेश के पूर्व विधायक डॉ. सुनीलम सोमवार को एसी कोच में यात्रा कर रहे थे. इसी दौरान वहां एक गुंडे ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी. अपनी जान बचाने के लिए नेता को ट्रेन के टॉय़लेट में छुपना पड़ा.

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, पूर्व विधायक डॉ. सुनीलम को एक अपराधी ने ट्रेन में जान से मारने की धमकी दी. इस धमकी के बाद वे काफी डर गए और अपनी जान बचाने के लिए वह स्वयं ट्रेन के टॉयलेट में जाकर बंद हो गए. पूर्व विधायक ने मंगलवार को रेलमंत्री पीयूष गोयल को एक शिकायत पत्र लिखा, जिसमें उन्होंने लिखा, "मै सोमवार-मंगलवार की रात निजामुद्दीन से मुलताई की ओर जाने वाली गोंडवाना एक्सप्रेस के बी-1 कोच के बर्थ नंबर 17 पर यात्रा कर रहा था. इसी दौरान बीना स्टेशन पर एक युवक आरती नाम की लड़की के साथ उस कोच में सवार हुआ. यात्रा के दौरान इस युवक ने मेरे (डॉ. सुनीलम) साथ कई बार अभद्रता की."

पूर्व विधायक ने आगे लिखा, "मैने इसकी शिकायत टीटीई से की. इतना ही नहीं, मैने प्रधानमंत्री और रेलमंत्री के ट्विटर हैंडल पर भी शिकायत की. बीना से भोपाल तक आने में दो घंटे लगे, मगर इस दौरान मुझे किसी का सहयोग नहीं मिला."

डॉ. सुनीलम ने ट्विटर पर लिखा, "अनाधिकृत तौर पर यात्रा कर रहा युवक मुझे लगातार धमकाता रहा. भोपाल स्टेशन पर उसके कई साथी भी आ गए, इस दौरान जान बचाने के लिए मुझे खुद को शौचालय में बंद करना पड़ा. भोपाल स्टेशन पर जितनी देर गाड़ी खड़ी रही, उतनी देर तक युवक के साथी दरवाजे पर पैर से ठोकर मारते रहे, मगर कोई सुरक्षाकर्मी नहीं आया"

पूर्व विधायक ने आगे लिखा, "मैने इसकी शिकायत टीटीई से की. इतना ही नहीं, मैने प्रधानमंत्री और रेलमंत्री के ट्विटर हैंडल पर भी शिकायत की. बीना से भोपाल तक आने में दो घंटे लगे, मगर इस दौरान मुझे किसी का सहयोग नहीं मिला."

डॉ. सुनीलम ने ट्विटर पर लिखा, "अनाधिकृत तौर पर यात्रा कर रहा युवक मुझे लगातार धमकाता रहा. भोपाल स्टेशन पर उसके कई साथी भी आ गए, इस दौरान जान बचाने के लिए मुझे खुद को शौचालय में बंद करना पड़ा. भोपाल स्टेशन पर जितनी देर गाड़ी खड़ी रही, उतनी देर तक युवक के साथी दरवाजे पर पैर से ठोकर मारते रहे, मगर कोई सुरक्षाकर्मी नहीं आया"

दुनिया की सबसे बड़ी कोयला खनन कंपनी कोल इंडिया को तोड़ सकती है मोदी सरकार

बता दें कि डॉ. सुनीलम समाजवादी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय सचिव और मध्यप्रदेश विधानसभा में समाजवादी पार्टी के विधायक दल के नेता रहे चुके हैं. सुनीलम ने जान से मारने की धमकी देने वाले गुंडों की फौरन गिरफ्तारी और दोषी अधिकारियों और कर्मचारियों को तत्काल निलंबित करने की मांग की है.

जम्मू-कश्मीर के सोपोर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, एक आतंकी ढेर

First published: 17 July 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी