Home » इंडिया » du student union election today voting
 

डीयू में छात्रसंघ चुनाव की वोटिंग जारी, 17 उम्मीदवार, 117 बूथ और 1.23 लाख मतदाता

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 September 2016, 11:40 IST
(फाइल फोटो)

दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) में छात्रसंघ चुनाव के लिए आज मतदान चल रहा है. डीयू में मुकाबला मुख्य रूप से कांग्रेस से जुड़े छात्र संगठन एनएसयूआई और बीजेपी समर्थित छात्र इकाई एबीवीपी के बीच है.

हालांकि वाम दलों से जुड़ा छात्र संगठन आइसा भी मैदान में एनएसयूआई और एबीवीपी को कड़ी टक्कर देने की पूरी कोशिश कर रहा है. डीयू छात्रसंघ चुनाव के संदर्भ में मुख्य चुनाव आयुक्त डीएस रावत ने बताया कि छात्रसंघ के पदाधिकारियों के चार पदों के लिए कुल 17 उम्मीदवार मैदान में हैं.

अध्यक्ष पद पर सात उम्मीदवार

इस बार सात उम्मीदवार अध्यक्ष पद के लिए मैदान में हैं, जबकि उपाध्यक्ष पद के लिए चार उम्मीदवार हैं. मतदान दो चरणों में कराया जा रहा है. डीएस रावत ने बताया है कि मतदाताओं की कुल संख्या 1,23,246 है. रावत ने कहा कि मतदान में 300 ईवीएम का इस्तेमाल किया जा रहा है.

साथ ही सुरक्षा के भी जरूरी इंतजाम किए गए हैं. आज मतदान के बाद छात्रसंघ चुनाव के नतीजों का एलान शनिवार दोपहर बाद घोषित किया जाएगा. गौरतलब है कि डीयू छात्रसंघ चुनाव के इतिहास में पहली बार छात्र नोटा का इस्तेमाल करेंगे.

फेसबुक

एबीवीपी और एनएसयूआई में टक्कर

दिल्ली यूनिवर्सिटी में छात्र संघ अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव और संयुक्त सचिव के लिए मतदान हो रहे हैं. दिल्ली यूनिवर्सिटी के 51 कॉलेजों में बनाए गए 117 बूथों पर मतदान सुबह 8.30 बजे शुरू हुआ.

कॉलेजों में मतदान दोपहर 12.30 बजे तक चलेंगे, जबकि शाम के कॉलेजों में मतदान दोपहर तीन बजे शुरू होंगे, जो शाम सात बजे तक चलेगा. डूसू चुनाव में अध्यक्ष पद के लिए सात उम्मीदवार, जबकि उपाध्यक्ष पद के लिए चार उम्मीदवार मैदान में हैं.

वहीं, सचिव और संयुक्त सचिव पद के लिए तीन-तीन उम्मीदवार मैदान में हैं. मतगणना शनिवार को होगी और उसी दिन परिणाम घोषित किए जाएंगे.

अध्यक्ष पद पर अमित तंवर बनाम निखिल यादव

पिछले साल के चुनाव में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के उम्मीदवारों ने सभी चार पदों पर जीत दर्ज की थी. इस बार, अध्यक्ष पद के लिए अमित तंवर एबीवीपी के उम्मीदवार हैं.

वहीं, नेशनल स्टूडेंड्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) ने एलएलबी प्रथम वर्ष के छात्र निखिल यादव को अध्यक्ष पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है, जबकि इसी पद के लिए आइसा ने कंवलजीत कौर को उम्मीदवार बनाया है.

दिल्ली यूनिवर्सिटी में कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई और बीजेपी से संबद्ध माने जाने वाले छात्र संगठन एबीवीपी के बीच मुख्य मुकाबला होता रहा है. जेएनयू में कथित देशविरोधी नारेबाजी के बाद हो रहे इस चुनाव को बीजेपी और विपक्ष दोनों के लिए लिटमस टेस्ट की तरह देखा जा रहा है.

फेसबुक
First published: 9 September 2016, 11:40 IST
 
अगली कहानी