Home » इंडिया » During 26/11 MUMBAI attack live seviyor caesar no more
 

26/11 मुंबई हमले में लोगों की जान बचाने वाला हीरो 'सीज़र' अब नहीं रहा

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 October 2016, 11:21 IST
(एजेंसी)

मुंबई में 26/11 के आतंकवादी हमलों के दौरान बहुत-से लोगों की जान बचाने वाले हीरो कुत्ते 'सीज़र' की उपनगर विरार में स्थित एक फार्म में मौत हो गई है.

बताया जा रहा है कि सीज़र 11 साल का था. वह उस डॉग स्क्वॉयड का आखिरी जीवित सदस्य था, जिसने 26/11 के आतंकवादी हमलों के दौरान सहायता और बचाव अभियान में सक्रिय भूमिका निभाई थी.

डॉग स्क्वॉयड में उसके सहयोगी और साथी रहे टाइगर, सुल्तान और मैक्स की हालिया कुछ महीनों में पहले ही मौत हो चुकी है.

इस मामले में पुलिस प्रवक्ता डीसीपी अशोक दुधे ने बताया कि अपने साथी टाइगर की मौत के बाद सीज़र डिप्रेशन का शिकार हो गया था और उसे जून माह में परेल के पशु अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

इलाज के बाद सीज़र को पशुओं के लिए काम करने वाले कार्यकर्ता फिज़ा शाह के विरार स्थित फार्म पर वापस भेज दिया गया था, जहां वह रिटायरमेंट की ज़िंदगी बसर कर रहा था.

लैब्राडोर प्रजाति का सीज़र साल 2005 से 2013 तक मुंबई पुलिस के बॉम्ब डिटेक्शन एंड डिस्पोज़ल स्क्वॉयड (बीडीडीएस) का हिस्सा रहा.

मुंबई में 26 नवंबर, 2008 को शुरू हुए आतंकवादी हमलों के दौरान सीज़र ने कई जानें बचाईं, जब उसने सीएसटी रेलवे स्टेशन पर आतंकियों के छोड़े हुए दो ग्रेनेड सूंघकर ढूंढ निकाले.

हमले के दौरान सीज़र उस सर्च टीम का हिस्सा भी रहा था, जिसने नरीमन प्वाइंट पर काम किया, जहां आतंकवादी तीन दिन तक छिपे रहे थे.

इसके अलावा मुंबई में साल 2006 के सीरियल ट्रेन धमाकों तथा जुलाई, 2011 में हुए विस्फोटों के समय भी सीज़र की सेवाएं ली गई थीं.

First published: 14 October 2016, 11:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी