Home » इंडिया » EAM Sushma Swaraj says We never said we are not ready for talks with pakistan but there is a caveat, Terror and talks cannot go together
 

भारत की PAK को दो टूक, जब सीमा पर जनाजे उठ रहे हों तो बातचीत अच्छी नहीं लगती

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 May 2018, 18:54 IST
(ANI twitter)

भारत ने पाकिस्तान को लेकर एक बार फिर से कड़ा रुख अख्तियार कर लिया है. सोमवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तानी सेना द्वारा सीमा पर सीजफायर उल्लंघन और प्रायोजित आतंकवाद पर पड़ोसी देश को आड़े हाथों लेते हुए साफ शब्दों में कहा कि बातचीत और आतंकवाद एक साथ नहीं चल सकते हैं. जब सीमा पर जनाजे उठ रहे हों, तो बातचीत की आवाज अच्छी नहीं लगती.

मीडिया खबरों के अनुसार, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सोमवार को मोदी सरकार के चार साल की उपलब्धियां गिनाई. इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान को जमकर खरी खरी सुनाई.

सुषमा स्वराज ने कहा कि हमने कभी नहीं कहा कि हम पाकिस्तान के साथ बातचीत करने के लिए तैयार नहीं है. लेकिन पाकिस्तान के साथ बातचीत का अभी सही समय नहीं है. जब तक पाकिस्तान सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन और प्रायोजित आतंकवाद को बंद नहीं करेगा. पाकिस्तान से बातचीत नहीं हो सकती है.

उन्होंने कहा कि 'जब सीमा पर जनाजे उठ रहे हों तो बातचीत की आवाज अच्छी नहीं लगती है. इतना ही नहीं सुषमा स्वराज ने गिलगित बाल्टिस्तान इलाके में पाकिस्तान के आदेश को लेकर भी कड़ी नाराजगी जाहिर की है. सुषमा स्वराज ने कहा कि पाकिस्तान हमें इतिहास पढ़ाने की कोशिश कर रहा है. लेकिन वह खुद हमेशा से इतिहास से छेड़छाड़ करता रहा है. पाकिस्तान को कानून में भरोसा नहीं है.

विदेशों से संबंध बेहतर किए

सुषमा स्वराज ने कहा कि उनकी सरकार ने विदेशों के साथ अपने संबंधों को सुधारा है. मुझे ये जानकार हैरानी हुई कि इतने सारे देशों में हमारे देश के नेता नहीं गए. जब हम सरकार में आए तो हमारी योजना थी कि हम संयुक्त राष्ट्र में शामिल सभी सभी 192 देशों को मंत्रिस्तरीय स्तर की बातचीत के लिए शामिल करेंगे. हम अभी तक 186 देश कवर कर चुके हैं.

 

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने विदेशों में फंसे 90 हदार लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला. पीएम मोदी ने अपनी विदेश यात्रा से कई लोगों को गंभीर दंड से भी बचा लिया. उन्होंने आगे कहा कि  एच-1 वीजा पर पर हमारी अमेरिका के साथ बातचीत हो रही है. हमारी पूरी कोशिश है कि इसको बचाया जा सके. हम अपनी तरफ से किसी तरह की कमी नहीं छोड़ रहे हैं.

डोकलाम की स्थिति में कोई बदलाव नहीं

सुषमा स्वराज ने कहा कि डोकलाम की स्थिति में कोई बदलाव नहीं आया है. उन्होंने कहा कि मैं फिर से दोहरा रही हूं कि डोकलाम की यथास्थिति बरकरार है.

First published: 28 May 2018, 18:42 IST
 
अगली कहानी