Home » इंडिया » All denominations of currency notes will be reintroduced with new design and features including 1000 notes
 

नहीं बंद होंगे 1000 के नोट, सभी पुराने नोट की जगह नए नोट जल्द

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 November 2016, 12:45 IST
(एएनआई)

केंद्र सरकार के आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांता दास ने गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि सभी पुरानी करेंसी नोट की जगह पर नए नोट जल्द जारी किए जाएंगे. आर्थिक सचिव ने इस दौरान यह भी कहा कि एक हजार का नोट बंद नहीं होगा.

वित्त मंत्री अरुण जेटली की मौजूदगी में आर्थिक सचिव शक्तिकांता दास ने बताया, "पिछले कुछ महीने से नए नोट के डिजायन की प्रक्रिया चल रही थी. इस काम में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के केवल दो से तीन लोग शामिल थे."

शक्तिकांता दास ने कहा, "अगले कुछ महीने के दौरान नए रंग और डिजायन वाला एक हजार रुपये का नोट जारी किया जाएगा. अभी प्रचलित सभी पुराने नोट की जगह नए नोट नई विशेषताओं के साथ जारी किए जाएंगे."

आर्थिक सचिव ने साथ ही कहा, "समय-समय पर नोट की नई सीरीज जारी करके उसे अर्थव्यवस्था में मिला लिया जाएगा." 

बाकी पुराने नोट बंद नहीं होंगे

आर्थिक मामलों के सचिव ने कहा, "मैं यह साफ करना चाहता हूं कि अभी स्वीकृत 100, 50 और बाकी नोट कानूनन वैध रहेंगे. इनका प्रचलन बंद नहीं किया जाएगा."

आठ नवंबर की शाम पीएम मोदी ने पांच सौ और एक हजार के पुराने नोट बंद करने का एलान किया था. पीएम ने कहा था कि पांच सौ के साथ ही दो हजार रुपये के नए नोट जारी किए जाएंगे. आज से बैंक में दो हजार रुपये के नए नोट लोगों को मिलने शुरू हो गए हैं.

'फैसले लेने वाली सरकार'

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सरकार के फैसले की तारीफ की. जेटली ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए यह एक साहसिक कदम है. यह सरकार फैसले लेने वाली सरकार है.

इसके साथ ही जेटली ने कहा, "कुछ दिन के लिए लोगों को लगेगा कि वे मुश्किल झेल रहे हैं, लेकिन लंबे समय के लिए उन्हें निश्चित तौर पर इसका फायदा मिलेगा."

साथ ही जेटली ने इस दौरान कहा, "पांच सौ और एक हजार के पुराने नोट बंद करने का फैसला देश के लोगों के खर्च करने की आदत पर बड़ा असर डालने वाला है."

जेटली ने साथ ही कहा कि लोगों को परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि पुराने नोट बदलने की समय सीमा अभी 30 दिसंबर तक है. छोटी खरीदारी पर कुछ दिन के लिए असर पड़ेगा जब तक कि नोटों की उपलब्धता है, लेकिन लंबे अरसे के लिए हर किसी के फायदे में है.

First published: 10 November 2016, 12:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी