Home » इंडिया » ed attached chhagan bhujbal property worth 90 crore
 

प्रवर्तन निदेशालय ने छगन भुजबल की 90 करोड़ की संपत्ति कुर्क की

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:48 IST
(कैच)

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री छगन भुजबल और उनके परिवार के खिलाफ धन शोधन (मनी लॉन्ड्रिंग) के मामले में कार्रवाई करते हुए 90 करोड़ रुपये की करीब दो दर्जन संपत्तियां कुर्क कीं.

इस मामले में अधिकारियों ने कहा कि धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत संपत्तियों की ताजा कुर्की के साथ इस मामले में अब तक कुर्क की गई संपत्तियों की कुल कीमत 433 करोड़ रुपए से ज्यादा है.

22 अचल संपत्तियां कुर्क

ईडी के अधिकारियों ने कहा कि मुंबई, नासिक और अहमदाबाद में फ्लैट, दुकानें, कृषि और गैर-कृषि भूमि, औद्योगिक भूखंड जैसी कुल 22 अचल संपत्तियों को पीएमएलए के तहत अस्थायी रूप से कुर्क किया गया है.

बाजार में इसका अनुमानित मूल्य 90 करोड़ रुपये है. भुजबल और उनके भतीजे समीर फिलहाल आर्थर रोड जेल में बंद हैं.

ईडी ने उन्हें गिरफ्तार किया था. भुजबल के बेटे और राकांपा विधायक पंकज को हाल ही में इसी मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने गिरफ्तारी से अंतरिम छूट दी थी.

पीडब्ल्यूडी मंत्री रहते रिश्वत का आरोप

ईडी के अनुसार, भुजबल परिवार ने छगन भुजबल को राज्य का लोक निर्माण मंत्री रहते उन्हें मिली रिश्वत की रकम अन्यत्र उपयोग करने के लिए कई दूसरे लोगों के साथ कथित रूप से साजिश रची थी.

इस साल 30 मार्च को एजेंसी ने आरोपपत्र दायर करके भुजबल, पंकज, समीर और डीबी रियलिटी, बलवा समूह, नीलकमल रियलटर्स एंड बिल्डर्स, नीलकमल सेंट्रल अपार्टमेंट एलएलपी और ककाड़े इंफ्रास्ट्रक्चर जैसी फर्मों को आरोपी बनाया था.

ये आरोप दिल्ली में महाराष्ट्र सदन के निर्माण और मुंबई में कलीना में जमीन हड़पने के मामले से जुड़े हैं. एजेंसी द्वारा इस मामले में कुर्की से जुड़ा यह पांचवां आदेश है.

First published: 12 August 2016, 2:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी