Home » इंडिया » Election Commission: 30 per cent of 18-19 age group are enrolled as voters
 

युवाओं के आसरे 2019 जीतना चाहते हैं मोदी, लेकिन चुनाव आयोग के ये आंकड़े डराने वाले हैं

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 April 2018, 12:53 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जहां 2019 के लोकसभा चुनावों में युवाओं को निर्णायक मान रहे हैं. वहीं उनके इन सपनों पर पानी फिर सकता है. चुनाव आयोग के आंकड़ों की मानें तो अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए अभी तक 18 से 19 आयु वर्ग के कुल 4.85 करोड़ मतदाताओं में 30 फीसदी का ही नामांकन हो पाया है. चुनाव आयोग के आंकड़ों से पता चलता है कि कर्नाटक, राजस्थान और मध्य प्रदेश में पहली बार वोट देने वाले मतदाताओं की संख्या इस साल कम है.

इन आंकड़ों के आधार पर यदि चुनाव होते हैं तो इस आयु वर्ग के 29.49 प्रतिशत या 1.43 करोड़ मतदाता ही मतदान कर पाएंगे. अखबार इंडियन एक्सप्रेस को आरटीआई के जरिये चुनाव आयोग से मिली जानकारी के अनुसार 18 से 19 आयु वर्ग में अनुमानित 4.85 करोड़ आबादी है, जिनमें से 3.42 करोड़ या 70.51 प्रतिशत लोग वोट नहीं डाल पाएंगे.

चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, 2018 तक देश में कुल अनुमानित आबादी 137.63 करोड़ है और इनमें से 87.75 करोड़ वोट देने के योग्य हैं. इनमें कर्नाटक (33.67 प्रतिशत), मध्य प्रदेश (21.19 प्रतिशत) और राजस्थान (46.58 प्रतिशत) मतदाताओं का नामांकन हुआ है.

ये भी पढ़ें ; मोदी सरकार ही नहीं तब राजीव गांधी भी मीडिया को नहीं कर पाए थे कैद

First published: 4 April 2018, 12:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी