Home » इंडिया » Election commission: Ban on Hidden donation to all Political Parties above 2000 INR
 

चुनाव आयोग की मांग: राजनीतिक दलों को 2000 रुपये से ज्यादा के गुप्त चंदे पर लगे रोक

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 December 2016, 17:15 IST
(एजेंसी)

चुनाव आयोग ने केंद्र सरकार से मांग की है कि चुनावों में प्रयोग हो रहे कालेधन को रोकने के लिए सरकार कानून में बदलाव करके राजनीतिक दलों को मिलने वाले बेनामी चंदे की राशि 2,000 रुपये तक निर्धारित करे.

वर्तमान में सभी राजनीतिक दलों को 20 हजार तक के बेनामी चंदे को लेने की छूट प्राप्त है. राजनीतिक दलों को ऐसे दानदाता की जानकारी सार्वजनिक करने की आवश्यकता नहीं होती है.

चुनाव आयोग ने सरकार से 'द रिपर्सेंटेशन एक्ट 1951' की धारा '29सी' में बदलाव करने की मांग की है जिसमें राजनीतिक दलों को अपने दानदाताओं के बारे में जानकारी देने से छूट मिली हुई है.

हालांकि सभी दलों को इस छूट का लाभ सिर्फ 20 हजार की धनराशि पर ही मिलता है.

अब चुनाव आयोग ने इसमें सुधार की पहल करते हुए सरकार को भेजे गए प्रस्ताव में कहा है कि चुनावों में सुधार लाने के लिए राजनीतिक दलों को मिलने वाले 20 हजार रुपये चंदे की छूट को घटाकर 2,000 रुपये कर देनी चाहिए.

गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद अभी बीते दिनों सरकार ने घोषणा की थी कि राजनीतिक दलों के द्वारा अपने खातों में 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों को जमा कराने पर मिलने वाली आयकर से छूट जारी रहेगी.

हालांकि 20,000 से ज्यादा रकम जमा करने पर इसकी पूरी जानकारी इनकम टैक्स को देनी होगी.

इस मामले में राजस्व सचिव हंसमुख अढ़िया ने बताया था कि सरकार अभी राजनीतिक दलों को मिलने वाली छूट के साथ किसी तरह का कोई बदलाव नहीं करने जा रही है और वो अब भी 500 और 1000 रुपये के नोट बैंक में जमा करा सकते हैं.

First published: 18 December 2016, 17:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी