Home » इंडिया » Election Results 2019: Excess vote counting happened in high profile seats like Begusarai and Patna Sahib
 

शत्रुघ्न सिन्हा और कन्हैया कुमार की सीट पर हुई धांधली ! मतदान से ज्यादा निकले वोट- रिपोर्ट में दावा

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 May 2019, 16:11 IST

लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे आ चुके हैं. लेकिन इन नतीजों को लेकर अब चौकाने वाले खुलासे सामने आ रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि कुछ हाई प्रोफाइल सीटों पर मतदान से ज्यादा वोट निकले हैं. न्यूज क्लिक नामक वेबसाइट ने वोटों की गिनती से जुड़ी जांच-पड़ताल की थी.

इस पड़ताल में दावा किया गया कि बिहार, यूपी, दिल्ली और मध्य प्रदेश में कुछ हाई प्रोफाइल सीटों पर कुल मतदान से अधिक संख्या में वोट नतीजों के समय काउंट किए गए. इन चार राज्यों की जिन सीटों पर कुल वोटिंग से ज्यादा वोट मतगणना के समय निकले हैं उनमें बिहार की तीन हाई प्रोफाइल सीटें भी शामिल हैं.

इन सीटों में पटना साहिब, जहानाबाद और बेगूसराय सीट हैं. पटना साहिब से रविशंकर प्रसाद ने शत्रुघ्न सिन्हा, बेगुसराय से गिरिराज सिंह ने कन्हैया कुमार और जहानाबाद सीट पर पोस्टल बैलेट ने निर्णायक भूमिका निभाई. पोस्टल बैलेट की गिनती के बाद ही जदयू व राजद प्रत्याशियों के बीच यहां हार-जीत का निर्णय हो सका. जहां जदयू प्रत्याशी को जीत मिली.

न्यूज क्लिक के दावे के अनुसार, चुनाव आयोग की वेबसाइट और ईसी के वोटर टर्नआउट ऐप से जुटाए गए आंकड़े के द्वारा बताया गया कि पटना साहिब क्षेत्र में 20 लाख 51 हजार 905 मतदाता हैं और वहां 46.34 फीसदी मतदान हुआ. यानि वहां नौ लाख 50 हजार 852 वोट डाले गए थे लेकिन गिनती में नौ लाख 82 हजार 285 वोट निकले. दावे के अनुसार, इस सीट पर 31 हजार 433 वोटों का फर्क था. रविशंकर प्रसाद ने यहां 2.84 लाख वोटों से शत्रुघ्न सिन्हा को मात दी है.

दूसरी तरफ, बेगुसराय सीट पर कुल 19 लाख 54 हजार 484 वोटर्स हैं. जहां 61.27 प्रतिशत वोटिंग हुई है. इस तरह वहां 11 लाख 97 हजार 512 मत पड़े. लेकिन जब गिनती हुई तो आंकड़ा 12 लाख 25 हजार 594 था. मतलब असल वोटिंग और मतगणना के बाद आए वोटों के बीच 28 हजार 82 वोटों का फर्क था.

बेगुसराय सीट पर बीजेपी उम्मीदवार गिरिराज सिंह ने लेफ्ट उम्मीदवार कन्हैया कुमार को लगभग चार लाख वोटों के अंतर से हराया. इसके अलावा पूर्वी दिल्ली, मध्य प्रदेश की गुना व मुरैना, यूपी की बदायूं और फर्रूखाबाद संसदीय सीट पर भी दावे के अनुसार असल डाले गए वोटों की तुलना में गिनती में आए वोटों के बीच फर्क पाया गया.

गौरतलब है कि पटना साहिब से चुनाव हारने वाले कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने भी शक जताया था कि इस सीट पर कोई बड़ा खेल हुआ है. वहीं मामले पर इलेक्शन कमीशन के तीन पूर्व आयुक्तों से संपर्क किया गया तो उनकी ओर से भी हैरानी जताई गई. पूर्व आयुक्तों ने कहा कि चुनाव आयोग को इस मसले पर सफाई देनी चाहिए या फिर वोटों के आंकड़ों में गड़बड़ी के मुद्दे का समाधान करे. 

बंपर जीत के बाद प्रणब मुखर्जी का आशीर्वाद लेने पहुंचे PM मोदी ने Twitter पर जो लिखा, वह हो गया वायरल

कौन हैं BIMSTEC देश जिन्हें PM मोदी के शपथ ग्रहण में दिया गया है न्यौता, इस वजह से हैं खास

First published: 28 May 2019, 16:11 IST
 
अगली कहानी