Home » इंडिया » Encounter between Security Forces and terrorists in Shopian Three militant killed
 

जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को किया ढेर, मेजर समेत 6 जवान घायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 April 2020, 16:46 IST

Shopian Encounter: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के शोपियां (Shopian) में एक बार फिर सुरक्षा बलों (Security Forces) और आतंकियों (Terrorist) के बीच मुठभेड़ हुई. जिसमें तीन आतंकियों के मारे जाने की खबर है और छह जवान घायल भी हुए हैं. बताया जा रहा है कि मंगलवार रातभर चले इस एनकाउंटर में तीन आतंकवादी मारे गए. एक अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि पहला आतंकवादी मंगलवार को उस समय मारा गया, जब जिले के जैनापुरा क्षेत्र के मेल्होरा में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई. उसके बाद दो आतंकी बुधवार को मार गिराए.

जानकारी के मुताबिक, सुरक्षाबलों को शोपियां जिले के जैनपोरा के मेलहोरा इलाके में मंगलवार को आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. इसके बाद पुलिस और सेना की 55 आरआर (55 RR) की संयुक्त टीम ने मेलहोरा इलाके को पूरी तरह से घेर लिया और तलाशी अभियान चलाया. इस दौरान जैसे ही सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम संदिग्ध स्थान की ओर बढ़ी, वहां छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी.


जिसके बाद सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई शुरू की. जिसमें एक आतंकवादी तुरंत मारा गया. हालांकि आतंकियों के खिलाफ की गई इस कार्रवाई में सुरक्षाबलों के छह जवान घायल भी हुए हैं. सुरक्षाबलों ने पूरी रात इलाके में सर्च अभियान चलाया और बुधवार सुबह दो अन्य आतंकियों को मार गिराया. बता दें कि इससे पहले सोमवार की सुबह कुलगाम जिले के लोअर मुंडा इलाके में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में तीन आतंकी मार गिराया था. इनके कब्जे से हथियार बरामद हुए हैं.

श्रद्धांजलि : इरफान का वो खत- 'नहीं-नहीं मेरा स्‍टेशन अभी नहीं आया'

मारे गए आतंकियों की पहचान बुरहान कोका, नासिर भट, उमर फिदायीन के रूप में हुई है. आतंकियों के खिलाफ सेना के जवानों का ये अभियान दोपहर बाद करीब ढाई बजे समाप्त हो गया. जिसमें 55 राष्ट्रीय राइफल्स के एक मेजर समेत छह जवान घायल हुए हैं.

कोरोना वायरस की महामारी से दो लाख 17 हजार से ज्यादा लोगों की गई जान, 31 लाख से अधिक संक्रमित

बता दें कि सुरक्षाबलों को सोमवार भी काजीगुंड इलाके के लोअर मुंडा में तीन से चार आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. इस पर सेना की 19 राष्ट्रीय राइफल्स, 24 बटालियन सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के एसओजी के जवानों ने इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया. इलाका रिहायशी होने के चलते जवानों ने पहले फंसे लोगों को सुरक्षित निकाला और फिर आतंकियों को आत्मसमर्पण करने को कहा. लेकिन आतंकियों ने जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई से मुठभेड़ शुरू हो गई. कुछ घंटे चली मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए.

अभिनेता इरफान के निधन को पीएम मोदी ने बताया रंगमंच के लिए बड़ी क्षति

बेंगलूरू: हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के एयरपोर्ट के पास लगी भीषण आग, दमकल की कई गाड़ियां मौजूद

First published: 29 April 2020, 16:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी