Home » इंडिया » Encounter between Terrorist and Security Forces, Two Terrorist Killed and one security personnel injured
 

जम्मू-कश्मीर: पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर, एक जवान भी घायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 September 2020, 9:53 IST

Pulwama Encounter: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) में को एक बार फिर से सुरक्षाबलों (Security Forces) और आतंकियों (Terrorist) के बीच मुठभेड़ (Encounter) हुई. जिसमें दो आतंकियों 0के मारे जाने की खबर है. बताया जा रहा है कि इस एनकाउंटर में एक जवान घायल भी हुआ है. जानकारी के मुताबिक, पुलवामा जिले (Pulwama district) के अवंतीपोरा (Awantipora) में रविवार (Sunday) को आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हुई, जिसमें सुरक्षा बलों ने दो आतंकियों को मार गिराया. इस मुठभेड़ के दौरान एक जवान भी घायल हुआ है.

गोलीबारी के दौरान जवान के पैर में गोली लगने से वह घायल हो गया. बता दें कि दक्षिण कश्मीर के अवंतीपुरा इलाके के सम्बूरा में सुरक्षा बलों को कुछ आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. इसी सूचना के आधार पर सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया. जब सुरक्षा बल इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रहे थे उसी दौरान आतंकवादियों ने उन पर गोली चला दी. सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की और उसके बाद यह मुठभेड़ शुरू हो गयी. एक अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए हैं. मारे गए आतंकवादियों की पहचान और उसका किस ग्रुसे से कनेक्शन इस बात का पता नहीं चला है. सुरक्षा बल इस बारे में पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं.


Petrol-Diesel Price: डीजल की कीमत में आज फिर हुई कटौती, नहीं बदले पेट्रोल के दाम

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों की कार्रवाई से बचने के लिए आतंकवादी संगठनों के शौचालयों के नीचे बंकर बना कर उसमें छिपने का नया चलन सामने आया है. पुलिस और सेना के अधिकारियों का मानना है कि सुरक्षा बलों के साथ हुईं विभिन्न मुठभेड़ में कई आतंकवादियों के मारे जाने के बाद आतंकवादी संगठन और उनसे सहानुभूति रखने वालों पर छिपने के लिए नए ठिकाने ढूंढने का दबाव बढ़ रहा है.

Jammu And Kashmir: भारतीय सेना के डर से टॉयलेट में बंकर बनाकर छिप रहे हैं आतंकवादी- रिपोर्ट

इसकी एक वजह यह भी है कि स्थानीय आबादी के साथ रहते हुए आतंकवादियों को बड़ा खतरा महसूस होने लगा है. जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह ने बताया कि, 'भूमिगत बंकर और अस्थायी गुफा कोई नयी बात नहीं है. दक्षिण कश्मीर में ऐसे कई उदाहरण मिले हैं. एक बार तो आतंकवादी एक शौचालय के सेप्टिक टैंक में छिपे हुए थे.'

PM Cares fund: RTI से खुलासा- 7 सरकारी बैंकों सहित इन संस्थाओं ने अपने कर्मचारियों की सैलरी से दिए 204.75 करोड़

First published: 28 September 2020, 9:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी