Home » इंडिया » Encounter in Srinagar between Security forces and terrorist One terrorist killed
 

जम्मू-कश्मीरः श्रीनगर में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, एक आतंकी ढेर

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 September 2020, 7:26 IST

Srinagar Encounter: जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) की राजधानी श्रीनगर (Srinagar) में गुरुवार सुबह आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ (Encounter) हो गई. जिसमें एक आतंकी (Terrorist) मारा गया है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, श्रीनगर के बटमालू इलाके (Batamaloo Area) में गुरुवार सुबह कुछ आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर जम्मू-कश्मीर पुलिस (Jammu Kashmir Police) और सीआरपीएफ (CRPF) के जवानों ने इलाके में सर्च अभियान चलाया. इस दौरान खुद को घिरता देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलाना शुरु कर दी. जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मौत के घाट उतार दिया. बताया जा रहा है कि अभी भी दोनों ओर से गोलियां चल रही है और पुलिस और सीआरपीएफ के जवान मोर्चे संभाले हुए हैं.

इससे पहले मंगलवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन एक गिरोह का भंडाफोड़ किया था. पुलिस ने बताया था कि उसे सूचना मिली थी कि कश्मीर के तीन युवकों का एक संगठन पाकिस्तानी आतंकी के संपर्क में है. इस संगठन के तीनों युवकों की पहचान गुटलीबाग निवासी अर्शिद अहमद खान, गांदरबल निवासी माजिद रसूल और मोहम्मद आसिफ नजर के रूप में की गई. तीनों लोग पाकिस्तानी आतंकी फयाज खान के संपर्क में थे.


बाबरी मस्जिद विध्वंस केस : 30 सितंबर को अदालत सुनाएगी फैसला, आडवाणी, जोशी सहित ये 32 लोग हैं आरोपी

वही उन्हें इलाके में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के निर्देश देता था. पुलिस और 5 आरआर की संयुक्त टीम इस ऑपरेशन को गांदरबल में अंजाम दिया था. तीनों आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ की गई जिसमें उनकी निशानदेही पर हथियार और इलैक्ट्रिक उपकरण बरामद किए गए थे. उनके संगठन को पाकिस्तानी आका द्वारा आसपास के इलाकों में सुरक्षाबलों पर हमले के निर्देश दिए जाते थे.

Coronavirus Update : आज दिनभर यूपी, दिल्ली सहित किस राज्य में आये कितने कोरोना वायरस केस

कोरोना वायरस की चपेट में आए नितिन गडकरी, मानसून सत्र के पहले दिन संसद में आए थे नजर

तीनों के खिलाफ गांदरबल पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है. गांदरबल एसएसपी खलील अहमद पोसवाल ने पूरे ऑपरेशन के बारे में बताया कि घाटी के युवाओं को चिन्हित करके सीमा पार बैठे आतंकी अपने संगठनों में शामिल करने की कोशिश कर रहे हैं. उनसे तमाम सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए संपर्क किया जाता है और युवाओं के अभिभावक को इसकी भनक तक नहीं लगती.

आज 70 साल के हुए पीएम नरेंद्र मोदी, सेवा सप्ताह के रूप में BJP मना रही प्रधानमंत्री का जन्मदिन

First published: 17 September 2020, 7:26 IST
 
अगली कहानी