Home » इंडिया » Enforcement Directorate Moves Appeal To Court Against Vijay mallya
 

ईडी ने कसा शिकंजा, विजय माल्‍या की 1411 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 June 2016, 8:48 IST
(पत्रिका)

भारतीय बैंको का 9 हजार करोड़ का लोन लेकर लंदन भाग चुके कारोबारी विजय माल्या पर ईडी का शिकंजा कसना शुरू हो गया है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए शनिवार को आईडीबीआई बैंक के ऋण भुगतान में चूक मामले में शराब कारोबारी विजय माल्या की 1,411 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की हैं.

ईडी ने इससे पहले शुक्रवार को मुंबई में विशेष पीएमएलए कोर्ट से बैंक के ऋण घोटाला मामले की जांच के सिलसिले में शराब कारोबारी विजय माल्‍या को भगोड़ा घोषित करने की मांग की थी.

यह संपत्ति‍यां बेंगलुरु, चेन्नई, कुर्ग और मुंबई में हैं. ईडी के अधि‍कारी ने बताया, 'हमने अभी 1411 करोड़ की प्रॉपर्टी अटैच की है. यह आईडीबीआई से कर्ज लेकर भुगतान नहीं करने के मामले में की गई कार्रवाई है. अगर भविष्य में कोई बैंक हमसे शि‍कायत करती है तो फिर संपत्ति कुर्क की जाएगी.'

भगोड़ा घोषित करने की मांग

ईडी के अधिकारियों का कहना है कि एजेंसी ने अदालत से अनुरोध किया है कि वह सीआरपीसी की धारा 82 के तहत एक आदेश पारित कर माल्या को भगोड़ा घोषित करे, क्योंकि उनके खिलाफ बहुत सारे गिरफ्तारी वॉरंट लंबित हैं.

इसमें धनशोधन रोकथाम कानून के तहत जारी किया गया एक गैर-जमानती वॉरंट भी शामिल है. उन्होंने बताया कि अदालत ईडी की अर्जी पर 13 जून को आदेश पारित कर सकती है.

ईडी चाहता है कि आईडीबीआई बैंक से जुड़े 900 करोड़ रुपए के लोन घोटाले में माल्‍या जांच में स्‍वयं उपस्थित होकर सहयोग करें, इसके लिए ईडी इंटरपोल की मदद भी ले रहा है. इतना ही नहीं माल्‍या को देश वापस लाने के लिए ईडी उनका राजनयिक पासपोर्ट भी रद्द करवा चुका है.

ब्रिटेन से माल्‍या का प्रत्‍यार्पण करवाने के लिए ईडी अब भारत-ब्रिटेन आपसी कानूनी सहयोग समझौते का अध्‍ययन कर रहा है. माल्‍या 2 मार्च को अपने डिप्‍लोमैटिक  पासपोर्ट के जरिये भारत छोड़कर ब्रिटेन चले गए थे.

First published: 12 June 2016, 8:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी