Home » इंडिया » Environment ministry bans cattle trading across the country
 

पशु काटने के इरादे से की गई ख़रीद पर देशभर में पाबंदी

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2017, 10:48 IST

पर्यावरण मंत्रालय ने एक निर्देश जारी करते हुए कहा है कि अब पशु बाजार में जानवरों के कत्ल करने के मकसद से नहीं ख़रीदा जा सकेगा. इस तरह की ख़रीद-फ़रोख़्त पर मंत्रालय ने पूरे देश में प्रतिबंध लगा दिया है. जानवरों की ख़रीद के वक़्त अब एक घोषणा पत्र भी जारी करना होगा कि ख़रीदे गए जानवर का क़त्ल नहीं किया जाएगा. हालांकि मंत्रालय के इस फैसले का केरल की राज्य सरकार ने विरोध किया है.

पर्यावरण मंत्रालय ने पशु क्रूरता निरोधक अधिनियम के तहत निर्देश जारी करते हुए कहा है कि इस श्रेणी में गाय, बैल, भैंस, ऊंट, सांड, बछिया, बछड़े आदि शामिल हैं. भेड़ और बकरों को शामिल नहीं किया गया है.

वहीं केरल के कृषि मंत्री वीएस सुनील कुमार ने कहा है कि इस नियम के ख़िलाफ़ राज्य सरकार अदालत का दरवाज़ा खटखटाएगी. उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार ने पशु क्रूरता निरोधक अधिनियम का बेजा इस्तेमाल किया है. केंद्र सरकार मांस खाने की संस्कृति पर पाबंदी लगाने की कोशिश कर रही है जो कि बिल्कुल भी स्वीकार्य नहीं है.

First published: 27 May 2017, 10:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी