Home » इंडिया » Ex-BSF jawan commits suicide outside Haryana Secretariat
 

बेटी के साथ रेप करते थे पुलिसकर्मी, बेबस बीएसएफ के पूर्व जवान ने दी जान

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 January 2016, 14:42 IST

हरियाणा में इंसानियत को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है. बुधवार को हरियाणा सचिवालय के सामने बीएसएफ के पूर्व जवान संदीप ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली है.

संदीप ने मरने से पहले लिखे अपने सुसाइड नोट में जो कहा है वह पूरे समाज और इंसानियत के लिए कलंक से भी ज्यादा स्याह नजर आता है. उसने अपने सुसाइड नोट में हरियाणा पुलिस के कुछ सिपाहियों के द्वारा कई महीनों तक अपनी 15 साल की मासूम बेटी के साथ हो रहे रेप का आरोप लगाया है.

बीएसएफ से रिटायर्ड संदीप ने सचिवालय परिसर में जहर खा कर आत्महत्या कर ली और इसके बाद उसके बैग से यह सुसाइड नोट मिला.

संदीप सचिवालय की पार्किंग एरिया में जहर खाने के बाद बेहोश हो गया. इसकी सूचना जैसे ही सचिवालय प्रशासन को मिली तो पूरे सचिववालय परिसर में खलबली मच गई.

वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने आनन-फानन में संदीप को पीजीआई चंडीगढ़ अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

मरने से पहले संदीप ने जो बयान दिया उसके मुताबिक हरियाणा पुलिस के कुछ कर्मचारी कई महीनों से उसकी 15 साल की बेटी के साथ रेप कर रहे हैं.

इस पूरी घटना में उसकी दूसरी पत्नी भी शामिल है. पहली पत्नी के मरने के बाद उसने दूसरी शादी की थी. उसने बताया कि उसकी दूसरी पत्नी के साथ आरोपियों पुलिसकर्मियों का अवैध संबंध था.

संदीप ने कहा कि जब उसने इस घृणित कार्य का विरोध किया तो आरोपी पुलिसकर्मियों ने उसे जान से मारने की धमकी दी. पुलिसकर्मियों ने उसे धमकाया कि अगर उसने विरोध में मुंह खोला तो उसे जान से मार दिया जाएगा. उसे रोज-रोज घुट के मरने और जिल्लत की जिंदगी बर्दाश्त नहीं हो रही है इसलिए वह जान दे रहा है.

संदीप सोनीपत के खरखौदा के पास सिसाना गांव का रहने वाला था. संदीप ने मरते समय बताया कि उसकी दूसरी पत्नी पहली पत्नी से पैदा हुई बेटी को थाने ले जाती है जहां पुलिस वाले उसका यौन शोषण करते थे.

संदीप ने मरने से पहले इस मामले की सीबीआई से जांच की मांग की है. संदीप ने इस मामले में सुसाइड नोट के अलावा भी कई पत्र राज्य के मुख्यमंत्री और पुलिस के डीजीपी को लिखे हैं.

सुसाइड के इस मामले में हरियाणा सरकार की कैबिनेट मंत्री कविता जैन ने बयान देते हुए कहा है कि 'यह संवेदनशील मामला है। पूरे मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी'.

इस मामले में पुलिस की जांच जारी है लेकिन फिलहाल किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

First published: 28 January 2016, 14:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी