Home » इंडिया » Ex Finance minister Yashwant Sinha again attacks modi, says wont be silent over the downfall of our economy
 

मोदी पर यशवंत सिन्हा का पलटवार, 'अर्थव्यवस्था का चीरहरण नहीं होने दूंगा'

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 October 2017, 13:57 IST

बुधवार को कंपनी सेक्रेटरी के प्रोग्राम में बोलते हुए नरेंद्र मोदी ने अर्थव्यवस्था पर सवाल उठाने वालों को निराशावादी क़रार दिया था. ऐसे लोगों की तुलना उन्होंने महाभारत के एक पात्र शल्य से की थी. शल्य का नाम पीएम ने इसलिए लिया था क्योंकि महाभारत में युद्ध के दौरान शल्य कर्ण को हतोत्साहित करता था. मगर मोदी की इस कटाक्ष पर यशवंत सिन्हा ने उनके ही अंदाज़ में जवाबी वार किया है.

उन्होंने कहा, 'महाभारत में हर प्रकार के चरित्र हैं, शल्य भी उनमें से एक हैं. शल्य कौरवों की ओर कैसे शामिल हुए इसकी कहानी सबको पता है. दुर्योधन ने उन्हें ठग लिया था. शल्य नकुल और सहदेव के मामा थे. वो पांडवों के साथ लड़ना चाहते थे लेकिन ठगी का शिकार हो गए. महाभारत में ही एक अन्य चरित्र हैं भीष्म पितामाह और भीष्म पर आरोप है कि जब द्रौपदी का चीर हरण हो रहा था तब वो खामोश रह गए. अब अगर अर्थव्यवस्था का चीर हरण होगा तो मैं बोलूंगा.'

अपने भाषण के दौरान पीएम ने आंकड़ों के हिसाब से सबकुछ समझाने की कोशिश की थी. इसपर यशवंत सिन्हा ने कहा कि आंकड़ों का खेल खतरनाक होता है. एक ही आंकड़ें को अलग-अलग तरीक़े से पेश किया जा सकता है. लिहाज़ा, आंकड़े देखने की बजाय जमीनी हकीकत देखिए.'

First published: 5 October 2017, 13:57 IST
 
अगली कहानी