Home » इंडिया » Ex minister Gaytri Prajapati gave ransom of 10 cr.
 

'ज़मानत के लिए गायत्री प्रजापति ने ख़र्च किए थे 10 करोड़ रुपये'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 June 2017, 10:56 IST

रेप के एक मामले में ज़मानत पर चल रहे यूपी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति फिर विवाद में फंस गए हैं. प्रजापति पर अपनी ज़मानत के लिए 10 करोड़ रुपये रिश्वत देने के आरोप है. यह रिश्वत कथित तौर पर बिचौलिए वकीलों और दो जजों को दी गई. अंग्रेज़ी अख़बार टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट  में ऐसा दावा किया गया है.

अख़बार के मुताबिक हाईकोर्ट की रिपोर्ट में गायत्री प्रजापति की पहले से तय ज़मानत का ज़िक्र है. रिपोर्ट में कहा गया है कि रेप और हत्या जैसे संवेदनशील मामलों की सुनवाई करने वाले जजों की पोस्टिंग में भ्रष्टाचार हुआ है.

यह रिपोर्ट जस्टिस भोंसले ने तैयार की है. इसमें कहा गया है कि सेशन जज ओपी मिश्रा को रिटायर होने से 3 हफ्ते पहले ही प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रेन फ्रॉम सेक्सुअल ऑफेंस के जज के रूप में तैनात हुए थे और उन्होंने ही 25 अप्रैल को प्रजापति को जमानत दी थी.

रिपोर्ट बताती है कि जज ओ.पी. मिश्रा की नियुक्ति में नियमों की अनदेखी हुई थी. प्रजापति की ज़मानत के लिए 5 करोड़ रुपये तीन बिचौलिए वकीलों को दिए गए और बाकी के 5 करोड़ रुपये पोक्सो जज (ओपी मिश्रा) और जज राजेंद्र सिंह को दिए गए थे. संवेदनशील मामलों की सुनवाई करने वाली कोर्ट में ओपी मिश्रा की पोस्टिंग जज राजेंद्र सिंह ने ही की थी.

First published: 19 June 2017, 10:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी