Home » इंडिया » Ex-officers of Pakistan Army trained terrorists at Balakot camp
 

बालाकोट स्थित आतंकी कैम्प में पाकिस्तान के पूर्व आर्मी अफसर देते थे ट्रेनिंग

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 February 2019, 9:41 IST

मंगलवार को भारतीय वायु सेना द्वारा नष्ट किए गए बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद (जेएम) आतंकी शिविर, पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में कुन्हार नदी के तट पर स्थित था और इसका इस्तेमाल हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी संगठन ने भी किया था.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार गृह मंत्रालय के सूत्रों ने कह कि शिविर में कई आतंकियों को ट्रेनिंग दी जा रही थी. यह JeM और अन्य आतंकी संगठनों के लिए एक महत्वपूर्ण प्रशिक्षण केंद्र था और इसमें प्रशिक्षुओं और उन्हें प्रशिक्षित करने के लिए सुविधाओं को समायोजित करने के लिए कई संरचनाएं बनाई गई थी.

बालाकोट शहर से 20 किलोमीटर दूर स्थित इस शिविर का इस्तेमाल युद्ध के दौरान किया जाता था और इसके प्रशिक्षक पाकिस्तान सेना के पूर्व अधिकारी थे. सूत्रों ने कहा कि जेईएम के संस्थापक मसूद अजहर और अन्य आतंकी यहां प्रेरणादायक व्याख्यान देते थे. सूत्रों ने कहा कि अजहर के रिश्तेदारों और कैडरों को हथियार और रणनीतिक तौर पर बालाकोट में प्रशिक्षण दिया गया था.

जेएम की स्थापना से पहले, हिजबुल मुजाहिदीन द्वारा शिविर का भी उपयोग किया गया था. अधिकारियों ने कहा कि जेएम आत्मघाती हमलों में माहिर है और धार्मिक स्वदेशीकरण और वैचारिक ब्रेनवॉशिंग को बहुत महत्व देता है.

एक और फिदायीन हमले की तैयारी में था जैश, पढ़िए वायुसेना की कार्रवाई पर विदेश मंत्रालय का पूरा बयान

First published: 27 February 2019, 9:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी